महाराष्ट्र कांग्रेस कमेटी की बैठक संपन्न, नाना पटोले बोले- राज्य में लागू होगा उदयपुर नवसंकल्प शिविर घोषणापत्र

nana patole
ANI
प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा कि उदयपुर नवसंकल्प शिविर के घोषणापत्र को महाराष्ट्र में लागू करने के अलावा हम केंद्र की मोदी सरकार के 8 साल के कार्यकाल की पोल भी खोलेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जनता को यह बताने का काम करना चाहिए कि भाजपा सरकार किस तरह बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, किसानों और श्रमिकों के मुद्दों को सुलझाने में पूरी तरह से विफल रही है।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के उदयपुर नवसंकल्प शिविर की तर्ज पर महाराष्ट्र में भी दो दिवसीय राज्य स्तरीय शिविर का आयोजन किया गया है। शिरडी में एक और दो जून को इस शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इस शिविर में राज्य के सभी मंत्री, जिलाध्यक्ष व प्रमुख पदाधिकारी भाग लेंगे। इस बात की घोषणा प्रदेश कांग्रेस प्रभारी एचके पाटिल ने की है। उन्होंने कहा कि शिर्डी में आयोजित होने वाले शिविर के माध्यम से उदयपुर नवसंकल्प शिविर में लिए गए फैसलों और मुद्दों से पार्टी के अंतिम कार्यकर्ताओं को अवगत कराया जाएगा। 

दादर स्थित तिलक भवन में सोमवार को पार्टी प्रभारी एच. के. पाटिल, पार्टी के राज्य चुनाव पदाधिकारी और पूर्व केंद्रीय मंत्री पल्लम राजू और प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले की अध्यक्षता में महाराष्ट्र कांग्रेस की विस्तारित कार्यकारिणी समिति की बैठक संपन्न हुई। इस बैठक में कांग्रेस विधायक दल के नेता और राजस्व मंत्री बालासाहेब थोरात, लोक निर्माण मंत्री अशोक चव्हाण, पूर्व मुख्यमंत्री सुशील कुमार शिंदे, पृथ्वीराज चव्हाण, महिला एवं बाल कल्याण मंत्री यशोमती ठाकुर, मत्स्य संरक्षण मंत्री असलम शेख, आदिवासी विकास मंत्री के. सी. पड़वी, राज्य मंत्री सतेज उर्फ बंटी पाटिल, डॉ. विश्वजीत कदम, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष माणिकराव ठाकरे, महिला प्रदेश अध्यक्ष संध्याताई सव्वालाखे, मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव और सह प्रभारी आशीष दुआ, सोनल पटेल, संपत कुमार, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष नसीम खान, शिवाजीराव मोघे, चंद्रकांत हंडोरे, बसवराज पाटिल, प्रणीति शिंदे, कुणाल पाटिल, प्रदेश उपाध्यक्ष और पूर्व सांसद हुसैन दलवई, मोहन जोशी, प्रदेश महासचिव एवं मुख्य प्रवक्ता अतुल लोंढे, प्रदेश महासचिव देवानंद पवार, प्रमोद मोरे समेत सभी जिलाध्यक्ष व पदाधिकारी मौजूद रहे।

इसे भी पढ़ें: नाना पटोले बोले- कांग्रेस को देश के ज्वलंत मुद्दों की चिंता, केंद्र सरकार से मांगते रहेंगे जवाब

एच. के. पाटिल ने सभी पदाधिकारियों और नेताओं का मार्गदर्शन करते हुए कहा कि राज्य- स्तरीय शिविर के बाद 9 से 14 जून तक जिला- स्तरीय शिविरों का आयोजन किया जाएगा। शिविर में राज्य के मंत्री और वरिष्ठ नेता शामिल होंगे। इस दौरान पार्टी संगठन को और मजबूत करने के साथ ही प्रदेश में कांग्रेस पार्टी के विस्तार करने पर भी जोर दिया जाएगा। स्वतंत्रता की अमृत वर्षगांठ के अवसर पर 9 से 15 अगस्त तक सभी जिलों में 75 किलोमीटर की 'आज़ादी गौरव पदयात्रा' का आयोजन किया जाएगा। उदयपुर घोषणा पत्र में एक व्यक्ति, एक पद समेत अन्य फैसलों को प्रदेश में लागू किया जाएगा।

प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा कि उदयपुर नवसंकल्प शिविर के घोषणापत्र को महाराष्ट्र में लागू करने के अलावा हम केंद्र की मोदी सरकार के 8 साल के कार्यकाल की पोल भी खोलेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जनता को यह बताने का काम करना चाहिए कि भाजपा सरकार किस तरह बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, किसानों और श्रमिकों के मुद्दों को सुलझाने में पूरी तरह से विफल रही है। पटोले ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार का रवैया सिर्फ व्यापारी की तरह है।  भाजपा सरकार कांग्रेस द्वारा स्थापित सभी कंपनियों को बेचने के अलावा उसका निजीकरण कर रही है । उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में देश का लोकतंत्र और संवैधानिक व्यवस्था खतरे में है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी इसके खिलाफ आवाज उठाएगी और जिस तरह अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ी गई थी। उसी तर्ज पर अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं को इस भाजपा सरकार के खिलाफ लड़ना होगा।

इसे भी पढ़ें: ईंधन टैक्स में केंद्र सरकार की कटौती सिर्फ दिखावा, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले का पलटवार

इस मौके पर राजस्व मंत्री बालासाहेब थोरात ने कहा कि देश में माहौल बदल गया है। संविधान पर हमला किया जा रहा है और कांग्रेस की विचारधारा को व्यवस्थित तरीके से नष्ट किया जा रहा है। कांग्रेस की विचारधारा का पालन करने वाले वफादार कार्यकर्ताओं को इन हमलों के खिलाफ मजबूती से लड़ने के लिए आगे आना होगा। थोरात ने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण कांग्रेस की विचारधारा है और इसकी जड़ों को और मजबूत बनाने के लिए हम सभी को मिल कर काम करना होगा। उन्होंने सभी नेताओं से आवाहन करते हुए कहा कि वे पार्टी संगठन को मजबूत करने पर ध्यान दें और एक दिन देश और राज्य में कांग्रेस की सत्ता की वापसी के लिए प्रयास करें। बैठक के दौरान लोक निर्माण मंत्री अशोक चव्हाण और राज्य चुनाव पदाधिकारी पल्लम राजू ने भी नेताओं को मार्गदर्शन प्रदान किया।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़