नाना पटोले बोले- कांग्रेस को देश के ज्वलंत मुद्दों की चिंता, केंद्र सरकार से मांगते रहेंगे जवाब

Nana Patole
ANI
नाना पटोले ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार हर मोर्चे पर फेल साबित हुई है। केंद्र की मोदी सरकार महंगाई, किसान, मजदूर, युवा और गरीबों की समस्याओं का समाधान नहीं कर पाई है। आज देश के हालात को देख कर कांग्रेस पार्टी काफी चिंतित है।

देश के मौजूदा हालात बेहद चिंताजनक हैं। डॉलर के मुकाबले रुपए के मूल्य में लगातार गिरावट हो रही है। तेजी से बढ़ रही महंगाई और बेरोजगारी की समस्या काफी विकट होती जा रही है। केंद्र की मोदी सरकार पर यह हमला महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नाना पटोले ने किया है। उन्होंने  कहा है कि भाजपा धार्मिक मुद्दों को हवा देकर मुख्य मुद्दों से लोगों का ध्यान भटकाने की बड़ी साजिश रच रही है लेकिन कांग्रेस आम जनता के हित में भजपा की केंद्र सरकार से जवाब मांगती रहेगी।

इसे भी पढ़ें: नाना पटोले का तीखा हमला, धार्मिक उन्माद बढ़ा ज्वलंत मुद्दों को दरकिनार करने की हो रही कोशिश

नाना पटोले ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार हर मोर्चे पर फेल  साबित हुई है। केंद्र की मोदी सरकार महंगाई, किसान, मजदूर, युवा और  गरीबों की समस्याओं का समाधान नहीं कर पाई है। आज देश के हालात को देख कर कांग्रेस पार्टी काफी चिंतित है। पटोले ने कहा कि लोगों को न्याय दिलाने के हमारी लडाई जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को देश के धार्मिक माहौल को खराब करने की जगह लोगों को महंगाई और बेरोजगारी से राहत देने के लिए फैसला लेना चाहिए। पटोले ने साफ तौर से कहा कि  हमें दूसरों से हिंदू धर्म के बारे में सीखने की जरूरत नहीं है, मानवता ही सच्चा धर्म है और इसे बढ़ावा देने के लिए सभी को मिल कर पहल करनी चाहिए। अगर सरकार जनता की समस्याओं का समाधान नहीं करती है तो ऐसी सरकार का क्या फायदा है? कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हमारी पार्टी लगातार लोगों के मुद्दों को लेकर सड़कों पर उतरी है। आज भी हम लोगों के सवाल के लिए केंद्र सरकार के खिलाफ खड़े हैं।

इसे भी पढ़ें: नाना पटोले का NCP से सवाल, समझौता तोड़ भाजपा के साथ सत्ता स्थापित करना, पीठ में खंजर घोंपना नहीं है तो...

पटोले ने कहा कि राज्य में विपक्षी दल महंगाई के लिए महाविकास अघाड़ी सरकार को जिम्मेदार बता रहे हैं, लेकिन सच्चाई यह है कि हमारी सरकार ने पिछले ढाई साल में कोई टैक्स नहीं बढ़ाया।  जीएसटी को लेकर राज्य के हाथ में कुछ नहीं छोड़ा गया है और केंद्र सरकार के पास महाराष्ट्र के करोड़ों रुपए बकाया हैं। देश के खजाने में ज्यादातर पैसा मुंबई, महाराष्ट्र के माध्यम से जाता है लेकिन केंद्र सरकार महाराष्ट्र को फंड उपलब्ध कराने में आनाकानी कर रही है।यह महाराष्ट्र के साथ अन्याय है। केंद्र सरकार ने ईंधन पर टैक्स लगा कर 26 लाख करोड़ रुपये कमाए हैं और वह  राज्य सरकार से उम्मीद करती है कि हम  करों को कम  करें। यह पूरी तरह से गलत है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़