आईएसी विक्रांत की यात्रा से सम्मानित महसूस कर रहा हूं : मलयाली फिल्मों के अभिनेता मोहनलाल

Mohanlal
प्रतिरूप फोटो
ANI
मलयाली फिल्मों के दिग्गज अभिनेता मोहनलाल ने अपने दौरे की कुछ तस्वीरें शनिवार को टि्वटर पर साझा भी कीं और आईएएस को ‘इंजीनियरिंग का असली चमत्कार’ बताया। मोहनलाल ने कहा, ‘‘भारत के पहले स्वदेशी विमानवाहक पोत(आईएएस) पर सवार होने के बाद बेहद सम्मानित महसूस कर रहा हूं।

कोच्चि, 8 अगस्त। देश में ही निर्मित विमानवाहक पोत ‘विक्रांत’ का दौरा करने के बाद अभिनेता मोहनलाल ने आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि वह इस यात्रा से बेहद सम्मानित महसूस कर रहे हैं। मोहनलाल (62) ने बृहस्पतिवार को फिल्मकार मेजर रवि के साथ भारत के पहले स्वदेशी विमानवाहक पोत विक्रांत का दौरा किया था। स्वदेशी विमानवाहक पोत (आईएसी) विक्रांत को जल्द ही भारतीय नौसेना में शामिल किया जाएगा।

मलयाली फिल्मों के दिग्गज अभिनेता मोहनलाल ने अपने दौरे की कुछ तस्वीरें शनिवार को टि्वटर पर साझा भी कीं और आईएएस को ‘इंजीनियरिंग का असली चमत्कार’ बताया। मोहनलाल ने कहा, ‘‘भारत के पहले स्वदेशी विमानवाहक पोत(आईएएस) पर सवार होने के बाद बेहद सम्मानित महसूस कर रहा हूं। कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड, केरल में निर्मित इस पोत को जल्द हीविक्रांत के रूप में नौसेना में शामिल किया जाएगा।

यह भारतीय नौसेना को और मजबूत करेगा और देश की जहाज निर्माण क्षमताओं को प्रदर्शित करता है।’’ अभिनेता ने इस यात्रा के लिए नौसेना के कई अधिकारियों के प्रति विशेष आभार भी जताया। करीब 20,000 करोड़ रुपये की लागत से बना यह विमानवाहक पोत 262 मीटर लंबा, 62 मीटर चौड़ा और इसकी ऊंचाई 59 मीटर है। इसका निर्माण 2009 में शुरू हुआ था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़