छेडछाड़ के आरोपों की निष्पक्ष जांच के लिए Swati Maliwal को पद से हटाया जाए, दिल्ली भाजपा ने की मांग

Swati Maliwal
ANI
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई ने दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की प्रमुख स्वाति मालीवाल पर शनिवार को हमला तेज करते हुए उनसे छेड़छाड़ के आरोपों की निष्पक्ष पुलिस जांच के लिए उपराज्यपाल से उन्हें (मालीवाल को) पदसे हटाने की मांग की।

नयी दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई ने दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की प्रमुख स्वाति मालीवाल पर शनिवार को हमला तेज करते हुए उनसे छेड़छाड़ के आरोपों की निष्पक्ष पुलिस जांच के लिए उपराज्यपाल से उन्हें (मालीवाल को) पदसे हटाने की मांग की। भाजपा की दिल्ली इकाई के प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने उपराज्यपाल वी के सक्सेना को लिखे पत्र में उनसे 19 जनवरी को मालीवाल के साथ हुई कथित छेड़छाड़ की घटना की पुलिस जांच पूरी होने तक उन्हें निलंबित करने का अनुरोध किया है।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी पर बनी बीबीसी डॉक्यूमेंट्री को सरकार ने किया बैन, ट्विटर, यूट्यूब को दिया लिंक हटाने का आदेश

मालीवाल ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया था कि अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के बाहर नशे में धुत एक कार सवार ने उनके साथ छेड़छाड़ की और फिर उन्हें अपनी गाड़ी से 10-15 मीटर तक घसीटा। मालीवाल का दावा है कि गाड़ी की खिड़की में उनका हाथ फंस गया था, तभी वाहन चालक ने कार आगे बढ़ा दी। इस मामले में 47 वर्षीय आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। कपूर ने कहा कि हर किसी ने घटना की निंदा की है और यह संतोषजनक है कि घटना की सूचना मिलने के बाद दिल्ली पुलिस ने त्वरित कार्रवाई की और आरोपी को एक घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया। भाजपा प्रवक्ता ने कहा, ‘‘...लेकिन इस मामले में सोशल मीडिया पर उपलब्ध रिपोर्ट और मीडिया में आई खबरों से संकेत मिलता है कि छेड़खानी करने वाला हरीश चंद्र दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी का सूर्यवंशी संगम विहार से सक्रिय कार्यकर्ता है।’’

इसे भी पढ़ें: Congress: हाथ से हाथ जोड़ो अभियान का लोगो जारी, मोदी सरकार के खिलाफ बनाई दो पेज की चार्जशीट

उन्होंने कहा कि हरीश चंद्र सूर्यवंशी की एक ‘आप’ विधायक के साथ प्रचार करते हुए तस्वीरें हैं। कपूर ने कहा, ‘‘छेड़छाड़ करने के आरोपी व्यक्ति के आम आदमी पार्टी से संबंध का खुलासा करने वाले इस घटनाक्रम ने स्वाति मालीवाल का पर्दाफाश कर दिया है और वह अपने संवैधानिक पद का इस्तेमाल कर इस मामले में पुलिस जांच को प्रभावित करने की पूरी कोशिश करेंगी।’’ कपूर ने अपने पत्र में उपराज्यपाल से आग्रह किया है कि वह कथित छेड़छाड़ की घटना की जांच पूरी होने तक डीसीडब्ल्यू अध्यक्ष के पद से मालीवाल को निलंबित करें, ताकि वह जांच को ‘‘प्रभावित’’ करने के लिए ‘‘अपने पद का दुरुपयोग’’ न कर सकें। भाजपा ने शुक्रवार को भी मालीवाल से छेड़छाड़ के दावों पर सवाल उठाते हुए आरोप लगाया था कि जिस व्यक्ति पर उन्होंने आरोप लगाया है वह ‘आप’ सदस्य है और उनका ‘‘नाटक’’ एक साजिश का हिस्सा था जिसका अब ‘‘पर्दाफाश’’ हो गया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़