नदिया रेप केस पर ममता के बयान से आहत निर्भया की मां ने बंगाल CM को लेकर कह दी बड़ी बात

Nirbhaya mother
अभिनय आकाश । Apr 12, 2022 1:18PM
निर्भया की मां ने कहा कि ममता बनर्जी सीएम पद के लायक नहीं है अगर वह एक पीड़ित के बारे में ऐसी टिप्पणी कर रही हैं। उन्होंने कहा, 'एक महिला होने के नाते अगर वह इस तरह की टिप्पणी कर रही हैं तो यह उस पद के अनुरूप नहीं है जिस पर वो बैठी हैं।

नादिया जिले में एक नाबालिग लड़की से बलात्कार के मामले को लेकर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बयान की चारो चरफ खूब आलोचना हो रही है। ममता बनर्जी अपने बयान के जरिये खुद बलात्कार पर सवाल उठाती नजर आईं। अब इसको लेकर 2012 दिल्ली गैंगरेप पीड़िता निर्भया की मां ने बड़ी टिप्पणी की है। निर्भया की मां ने कहा कि ममता बनर्जी सीएम पद के लायक नहीं है अगर वह एक पीड़ित के बारे में ऐसी टिप्पणी कर रही हैं। उन्होंने कहा, 'एक महिला होने के नाते अगर वह इस तरह की टिप्पणी कर रही हैं तो यह उस पद के अनुरूप नहीं है जिस पर वो बैठी हैं। 

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल उपचुनाव: आसनसोल से भाजपा की उम्मीदवार की गाड़ी पर पथराव

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक नाबालिग लड़की की मौत के कारण पर संदेह व्यक्त किया और आश्चर्य जताया कि क्या नादिया जिले के हंसखली की कक्षा 9 की छात्रा की मौत किसी के थप्पड़ मारने के बाद गिरने से तो नहीं हुई। यह कहते हुए कि आरोपी के साथ पीड़ित का प्रेम प्रसंग था ममता ने आश्चर्य जताया कि क्या वह गर्भवती थी। इस मामले में आरोप तृणमूल कांग्रेस के एक नेता के पुत्र पर है जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। मुख्यमंत्री ने यह भी पूछा कि लड़की की मौत और शव का अंतिम संस्कार करने के पांच दिन बाद उसके परिवार के सदस्यों ने पुलिस में शिकायत क्यों दर्ज कराई। 

इसे भी पढ़ें: नादिया गैंगरेप और हत्या में सामने आया CM का बयान तो भाजपा सांसद ने जताया दुख, जानिए ममता बनर्जी ने ऐसा क्या कहा ?

वहीं लड़की के परिवार का आरोप है कि सामूहिक दुष्कर्म के बाद उसकी मौत हुई। इस बीच पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने सोमवार को नाबालिग लड़की से कथित सामूहिक बलात्कार और उसकी मौत पर राज्य के मुख्य सचिव से तत्काल रिपोर्ट मांगी। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़