ममता बनर्जी ने उप चुनाव परिणाम पर कहा, अपने अंहकारों का परिणाम भुगत रही भाजपा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2019   20:22
ममता बनर्जी ने उप चुनाव परिणाम पर कहा, अपने अंहकारों का परिणाम भुगत रही भाजपा

राज्य में लोकसभा चुनावों में शानदार प्रदर्शन करने वाली भाजपा इस उपचुनाव में एक भी सीट नहीं जीत पाई और उसे खड़गपुर सदर सीट का नुकसान उठाना पड़ा है।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बृहस्पतिवार को कहा कि उपचुनाव में तृणमूल कांग्रेस को मिली जीत ‘धर्मनिरपेक्षता और एकता’ के पक्ष में और ‘एनआरसी’ के खिलाफ है। तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ने कहा कि भाजपा अपने ‘अहंकार’ और राज्य के लोगों को ‘अपमानित’ करने का परिणाम भुगत रही है।

पश्चिम बंगाल में हुए विधानसभा उपचुनाव में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने सभी तीनों सीटों पर जीत दर्ज की है। राज्य में लोकसभा चुनावों में शानदार प्रदर्शन करने वाली भाजपा इस उपचुनाव में एक भी सीट नहीं जीत पाई और उसे खड़गपुर सदर सीट का नुकसान उठाना पड़ा है। हालांकि भाजपा इन सभी तीन सीटों पर दूसरे स्थान पर रही है। राज्य सचिवालय के बाहर संवाददाताओं से उन्होंने कहा कि भाजपा केंद्र में सत्ता में आने के पांच-छह महीने के भीतर लोगों का विश्वास खो रही है। उन्होंने कहा, ‘‘ एनआरसी भाजपा का राजनीतिक रूख है और हम इसे पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होने देंगी और हम यह भी नहीं चाहते हैं कि यह भारत में कहीं भी लागू हो भाजपा बंगाल को टुकड़े-टुकड़े में बांटना चाहती है...हम आश्वासन देते हैं कि एनआरसी की वजह से एक भी व्यक्ति बाहर नहीं जाएगा।’’ 

इसे भी पढ़ें: विस उपचुनाव: पश्चिम बंगाल में TMC ने तीनों सीटें जीतीं, उत्तराखंड की पिथौरागढ़ सीट पर भाजपा विजयी

वहीं उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि माकपा और कांग्रेस खुद को मजबूत करने के बदले राज्य में भाजपा की मदद कर रहे हैँ। वहींबनर्जी ने एक टीवी चैनल से कहा, ‘‘ हम इस जीत को बंगाल के लोगों को समर्पित करते हैं। यह धर्मनिरपेक्षता और एकता की जीत है तथा यह एनआरसी के विरोध में है। भाजपा सत्ता के अंहकार और राज्य के लोगों का अपमान करने की सजा भुगत रही है।’’ बनर्जी ने कहा, ‘‘ लोगों ने उसे सिरे से खारिज कर दिया है। वह (भाजपा) इस देश के नागरिकों को शरणार्थी घोषित करने और उन्हें हिरासत केंद्रों में भेजना चाहती है।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।