संविधान दिवस पर बोलीं ममता, हमें इसके प्रत्येक शब्द को अमल में लाना चाहिए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 26, 2019   12:37
संविधान दिवस पर बोलीं ममता, हमें इसके प्रत्येक शब्द को अमल में लाना चाहिए

ममता बनर्जी ने संविधान दिवस के मौके पर भारतीय संविधान तैयार करने में डॉ. बी आर आंबेडकर के योगदान को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि देशवासियों को भारतीय संविधान में निहित आदर्शों का पालन करना चाहिए।  संविधान दिवस के मौके पर बनर्जी ने भारतीय संविधान तैयार करने में डॉ. बी आर आंबेडकर के योगदान को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी। बनर्जी ने ट्वीट किया, “संविधान दिवस के अवसर पर, डॉ बी आर आंबेडकर और संविधानसभा को श्रद्धांजलि, जिन्होंने हमारे महान लोकतंत्र को आकार दिया। हमें संविधान के प्रत्येक शब्द को अमल में लाना चाहिए: स्वायत्त, समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष एवं लोकतांत्रिक गणराज्य, न्याय, स्वतंत्रता, भाईचारा और समानता।”

सरकार 26 नवंबर को संविधान दिवस के तौर पर मना रही है क्योंकि इसी दिन 1949 में संविधान को अंगीकृत किया गया था और बाद में 26 जनवरी, 1950 को यह लागू हुआ था जहां से भारत की एक गणतंत्र के रूप में शुरुआत हुई।केंद्र ने 2015 में 26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।