अब भी मसूद अजहर नहीं माना तो ओसामा जैसा हाल हो सकता है: पासवान

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 6 2019 6:14PM
अब भी मसूद अजहर नहीं माना तो ओसामा जैसा हाल हो सकता है: पासवान
Image Source: Google

उन्होंने विपक्ष के इसे मोदी की उपलब्धि नहीं मानने की ओर इशारा करते हुए दलील दी कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी 1971 में बंगलादेश के खिलाफ स्वयं तो लड़ने नहीं गयी थीं पर उस जीत के लिए उनका नाम लिया जाता है।

पटना। केंद्रीय मंत्री और लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान ने सोमवार को कहा कि संयुक्त राष्ट्र की ओर से आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने के बाद भी अगर वह अपनी आतंकी गतिविधियां नहीं रोकता तो उसका हाल ओसामा बिन लादेन जैसा हो सकता है और कोई देश इस पर आपत्ति नहीं जताएगा। पासवान ने पटना में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मसूद अजहर के मामले को लेकर चीन लगातार वीटो लगाता रहा था और अब चीन का इस मामले में साथ देना बहुत बडी उपलब्धि है और इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जितना भी धन्यवाद दिया जाए कम है। 



 
उन्होंने विपक्ष के इसे मोदी की उपलब्धि नहीं मानने की ओर इशारा करते हुए दलील दी कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी 1971 में बंगलादेश के खिलाफ स्वयं तो लड़ने नहीं गयी थीं पर उस जीत के लिए उनका नाम लिया जाता है। पासवान ने कहा कि अगर मसूद अजहर अब भी बदमाशी करेगा तो जैसे ओसामा बिन लादेन के साथ हुआ वैसी घटना अजहर के साथ घट सकती है और कोई भी देश कुछ नहीं बोलेगा क्योंकि सभी मानते हैं कि वह आतंकी है और उस पर प्रतिबंध है। 


उन्होंने कहा कि अगर पुलवामा की घटना को लेकर वर्तमान सरकार कार्रवाई नहीं करती तो भी विपक्ष उसे लेकर आवाज उठाता। पासवान ने कहा कि पुलवामा हमले के बाद जो सर्जिकल स्ट्राईक की गयी और पूरे विश्व की राय अपने पक्ष में की गयी, यह मामूली बात नहीं है। उन्होंने कहा कि केंद्र की वर्तमान राजग सरकार के कार्यकाल के दौरान आतंकवादियों के खिलाफ जो कार्रवाई की गयी है उससे देश की शान बढ़ी है।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video