राजस्थान के सरिस्का टाइगर रिजर्व में लगी भीषण आग, बाघों समेत अन्य वन्यजीवों पर मंडरा रहा खतरा

राजस्थान के सरिस्का टाइगर रिजर्व में लगी भीषण आग, बाघों समेत अन्य वन्यजीवों पर मंडरा रहा खतरा
प्रतिरूप फोटो

अलवर की एडीएम सुनीता पंकज ने बताया कि सेना के दो हेलीकॉप्टर मंगवाए गए हैं। जहां सबसे ज़्यादा आग फैली है या फिर जहां पर वन्यजीवों को ज़्यादा खतरा है और आग ग्रामीण क्षेत्र में न बढ़े, इसके लिए पहले उन जगहों पर पानी डाला जा रहा है। आग का क्षेत्र काफी विस्तृत हो गया है।

जयपुर। राजस्थान के अलवर में स्थित सरिस्का टाइगर रिजर्व में भीषण आग लगी है जो 20 किमी से ज्यादा के क्षेत्र में फैल गई है। जिसकी वजह से बाघों समेत अन्य वन्यजीवों पर खतरा मंडरा रहा है। हालांकि आग पर काबू पाने के लिए वायुसेना के दो हेलीकॉप्टरों ने मोर्चा संभाला हुआ है और लगातार पानी का छिड़काव कर रहे हैं। जिसका वीडियो सामने आया है। 

इसे भी पढ़ें: गाजीपुर लैंडफिल साइट पर भीषण आग लगी, AAP ने भाजपा और एमसीडी पर साधा निशाना 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, अलवर की एडीएम सुनीता पंकज ने बताया कि सेना के दो हेलीकॉप्टर मंगवाए गए हैं। जहां सबसे ज़्यादा आग फैली है या फिर जहां पर वन्यजीवों को ज़्यादा खतरा है और आग ग्रामीण क्षेत्र में न बढ़े, इसके लिए पहले उन जगहों पर पानी डाला जा रहा है। आग का क्षेत्र काफी विस्तृत हो गया है।

आग बुझा रहे हैं वन विभाग के कर्मचारी

सरिस्का टाइगर रिजर्व में लगी आग पर काबू पाने के लिए वन विभाग के 250 से अधिक कर्मचारियों ने भी मोर्चा संभाला हुआ है और वह आग बुझाने में जुटे हुए हैं। आपको बता दें कि सरिस्का टाइगर रिजर्व के जिस क्षेत्र की तरफ आग फैल रही है उस तरफ कई बाघ रहते हैं।

इसे भी पढ़ें: पेट्रोल-डीजल के दामों में लगी आग, जानिए आपके शहर में क्या हैं तेल की ताजा कीमतें 

अलवर के डीएफओ सुदर्शन शर्मा ने बताया कि हमें दो दिन पहले आग लगने की सूचना मिली थी। हमने आग पर काबू पाने के लिए स्थानीय लोगों की मदद ली। 9 वर्ग किमी क्षेत्र अभी आग की लपटों में है। हम आग पर काबू पाने की कोशिश कर रहे हैं ताकि यह घाटी में न फैले। आग पर काबू पाने के बाद नुकसान का आंकलन होगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...