नागर विमानन मंत्रालय वायुसेना के निर्देशों का सख्ती से पालन कर रहा है: जयंत सिन्हा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 27, 2019   17:18
नागर विमानन मंत्रालय वायुसेना के निर्देशों का सख्ती से पालन कर रहा है: जयंत सिन्हा

कितनी उड़ानों पर इसका असर पड़ा है, यह पूछे जाने पर सिन्हा ने कहा, ‘‘मेरे पास आंकड़े नहीं हैं। लेकिन मैं इतना कह सकता हूं कि हम वायु सेना के निर्देशों का पालन कर रहे हैं।’’

नयी दिल्ली। नागर विमानन मंत्री जयंत सिन्हा ने बुधवार को कहा कि उनका मंत्रालय भारतीय वायु सेना के निर्देशों का सख्ती से पालन कर रहा है। भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ने के मद्देनजर उत्तर भारत में श्रीनगर, जम्मू और लेह सहित नौ हवाई अड्डों पर सेवा अस्थायी रूप से रोक दी गयी थी।

दिन में बाद में नागर विमानन महानिदेशक (डीजीसीए) ने कहा कि नौ हवाई अड्डे पर सेवा बहाल कर दी गयी है। एक कार्यक्रम के इतर सिन्हा ने कहा, ‘‘हम वायु सेना के तमाम निर्देशों का सख्ती से पालन कर रहे हैं और हम ऐसा करना जारी रखेंगे।’’ कितनी उड़ानों पर इसका असर पड़ा है, यह पूछे जाने पर सिन्हा ने कहा, ‘‘मेरे पास आंकड़े नहीं हैं। लेकिन मैं इतना कह सकता हूं कि हम वायु सेना के निर्देशों का पालन कर रहे हैं।’’

इसे भी पढ़ें: इमरान खान का कहना, बातचीत से मसले सुलझाए जा सकते है

इससे पहले बुधवार को भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ने ‘नोटिस टू एयरमैन’ (एनओटीएएम) जारी कर कहा था कि श्रीनगर, जम्मू, लेह, पठानकोट,अमृतसर, शिमला, कांगड़ा, कुल्लू मनाली और पिथौरागढ़ में हवाई अड्डे में विमानों का परिचालन 27 फरवरी से 27 मई तक बंद रहेगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।