कांग्रेस विधायक के बेटे पर 15 साल की नाबालिग के साथ रेप करने का आरोप, 5 के खिलाफ केस दर्ज

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 26, 2022   17:49
कांग्रेस विधायक के बेटे पर 15 साल की नाबालिग के साथ रेप करने का आरोप, 5 के खिलाफ केस दर्ज

नाबालिग सामूहिक दुष्कर्म मामले में कांग्रेस विधायक के बेटे सहित पांच के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। इसके मुताबिक घटना फरवरी की है जब आरोपी लड़की को महवा-मंडावर रोड स्थित एक होटल में ले गए और वारदात को अंजाम दिया। उन्होंने धमकी देने के लिए अश्लील वीडियो भी बनाया।

जयपुर।राजस्थान के दौसा जिले में 15 वर्षीय नाबालिग से कथित सामूहिक दुष्कर्म के मामले में राजगढ़ से कांग्रेस विधायक जौहरी लाल मीणा के बेटे समेत पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। इसके मुताबिक घटना फरवरी की है जब आरोपी लड़की को महवा-मंडावर रोड स्थित एक होटल में ले गए और वारदात को अंजाम दिया। उन्होंने धमकी देने के लिए अश्लील वीडियो भी बनाया। मंडावर के थाना प्रभारी नाथू लाल ने कहा, ‘‘राजगढ़ विधायक के बेटे दीपक मीणा समेत तीन नामजद आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

इसे भी पढ़ें: अश्लील तस्वीरें दिखाकर नाबालिग लड़की का करता था रेप, आरोपी को सुनाई गई कठोर सजा

दो अन्य के खिलाफ भी सामूहिक दुष्कर्म और भारतीय दंड संहिता की अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।’’ उन्होंने बताया कि परिवार के सदस्यों की शिकायत के आधार पर शुक्रवार को मामला दर्ज किया गया। पीड़िता का मेडिकल परीक्षण करा लिया गया है और बयान दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने बताया कि दो अन्य नामजद आरोपी विवेक शर्मा और नेतराम हैं। पुलिस ने कहा कि शर्मा ने पीड़िता का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर 15 लाख रुपये नकद और आभूषण ले लिया। मामले में परिजनों ने चोरी की शिकायत दर्ज कराई थी।

इसे भी पढ़ें: रेप,रेप होता है, चाहे पति क्यों न करे! मैरिटल रेप पर कर्नाटक HC की टिप्पणी

पुलिस जांच में शर्मा की संलिप्तता पाई गई, जिसके बाद पीड़ित लड़की ने आपबीती अपनी मां के साथ साझा करने का साहस किया। मुख्य विपक्षी दल भाजपा ने इस मुद्दे को लेकर राज्य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां ने एक वीडियो बयान में कहा, ‘‘कांग्रेस विधायक के बेटे के खिलाफ जब दुष्कर्म के आरोप लगते हैं तो न केवल राजस्थान शर्मसार होता है, राजस्थान की कानून व्यवस्था पर प्रश्न खड़ा होता है, बल्कि राज्य में एक साल में 6337 दुष्कर्म की घटनाओं में एक कड़ी और जुड़ती है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि राज्य में कानून का राज खत्म हो गया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।