फिरोजाबाद की शिकोहाबाद विधानसभा से विधायक मुकेश वर्मा ने भाजपा से दिया इस्तीफा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 13, 2022   12:09
फिरोजाबाद की शिकोहाबाद विधानसभा से विधायक मुकेश वर्मा ने भाजपा से दिया इस्तीफा

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले की शिकोहाबाद विधानसभा सीट से भाजपा विधायक डॉ मुकेश वर्मा ने बृहस्पतिवार सुबह एक पत्र जारी कर भारतीय जनता पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।

फिरोजाबाद(उप्र)। उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले की शिकोहाबाद विधानसभा सीट से भाजपा विधायक डॉ मुकेश वर्मा ने बृहस्पतिवार सुबह एक पत्र जारी कर भारतीय जनता पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष को प्रेषित पत्र में उन्होंने लिखा है कि भारतीय जनता पार्टी में पिछड़ों दलितों एवं अल्पसख्यकों को कोई तवज्जो नहीं दी गई और न ही उन्हें सम्मान दिया गया। उन्होंने कहा कि पिछड़े, दलितों, बेरोजगारों, नौजवानों एवं मध्यम एवं लघु उद्योग व्यापारियों, दुकानदारों आदि की आवाज को अनसुना करना और उन्हें न्याय न मिलने की बात के चलते स्वामी प्रसाद मौर्य के नेतृत्व में वह इस लड़ाई को आगे जारी रखने के लिए भारतीय जनता पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूं।

इसे भी पढ़ें: दुकान से घर जा रही नाबालिग लड़की से बलात्कार, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

पत्र में उन्होंने लिखा कि स्वामी प्रसाद मौर्य जी शोषित पीडितों की आवाज हैं और वह हमारे नेता हैं, मैं उनके साथ हूं। विधायक ने इस पत्र की एक प्रति भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को भी भेजी है। प्रदेश सरकार के पूर्व श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने मंगलवार को और एक अन्य पूर्व मंत्री दारा सिहं चौहान ने बुधवार को इस्तीफा दिया था।

इसे भी पढ़ें: मेरठ, नामांकन को लेकर कलक्ट्रेट में तैयारी पूर्ण,सुरक्षा चाकचौबंद

ऐसी अटकले लगायी जा रही हैं कि यह दोनो मंत्री अपने समर्थक विधायकों के साथ शुक्रवार को समाजवादी पार्टी का दामन थाम सकते हैं। उनके समर्थकों के बीच ऐसी चर्चा है कि वर्मा समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।