मोदी को जवानों के नाम पर वोट मांगते हुए शर्म आनी चाहिए : ममता

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 9 2019 4:54PM
मोदी को जवानों के नाम पर वोट मांगते हुए शर्म आनी चाहिए : ममता
Image Source: Google

‘‘पिछले पांच वर्षों में वह अयोध्या में राम मंदिर नहीं बना पाए लेकिन जब भी चुनाव आता है तो वह यह मुद्दा उठाते हैं। लोग मूर्ख नहीं हैं। आप हर बार उन्हें मूर्ख नहीं बना सकते।’’ साथ ही उन्होंने कहा कि वह देश में हर धर्म का सम्मान करती हैं।

इस्लामपुर (पश्चिम बंगाल)। अयोध्या में पिछले पांच वर्षों में राम मंदिर बनाने में नाकाम रहने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उपहास उड़ाते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जवानों और शहीदों के नाम पर वोट मांगने के लिए उनकी आलोचना की। बनर्जी ने उत्तर दिनाजपुर जिले में यहां एक चुनावी रैली में कहा कि सशस्त्र बल हर भारतीय के हैं और मोदी तथा भाजपा को इन बलों को अपनी जागीर नहीं समझनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: दंगों और नरसंहार के माध्यम से राजनीति में आये हैं फासीवाद के राजा मोदी: ममता

उन्होंने कहा, ‘‘पिछले पांच वर्षों में वह अयोध्या में राम मंदिर नहीं बना पाए लेकिन जब भी चुनाव आता है तो वह यह मुद्दा उठाते हैं। लोग मूर्ख नहीं हैं। आप हर बार उन्हें मूर्ख नहीं बना सकते।’’ साथ ही उन्होंने कहा कि वह देश में हर धर्म का सम्मान करती हैं। तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने कहा कि मोदी को जवानों तथा शहीदों के नाम पर वोट मांगते हुए शर्म आनी चाहिए।
बनर्जी ने कहा, ‘‘वह अब शहीदों और जवानों के नाम पर वोट मांग रहे हैं जैसे कि सेना उनकी हो, जैसे कि वह उनकी जागीर हो। सशस्त्र बल सभी के हैं। वह हमारा गौरव हैं। उन्हें पहले जवाब देना चाहिए कि हमले की खुफिया सूचना होने के बावजूद पुलवामा में इतने जवान कैसे मारे गए।’’ नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की तुलना महाराष्ट्र के दुर्योधन तथा दु:शासन से करते हुए उन्होंने दावा किया कि वे देश की आजादी को छीनने की कोशिश कर रहे हैं।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video