झारखंड में बोले योगी, मोदी और शाह ने अनुच्छेद 370 को हटाने का साहस दिखाया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2019   09:22
झारखंड में बोले योगी, मोदी और शाह ने अनुच्छेद 370 को हटाने का साहस दिखाया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब तक उत्तर प्रदेश ,झारखंड और दिल्ली में एक तरह की सरकार नहीं होगी तब तक समस्या का समाधान संभव नहीं है।

गढ़वा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को हटाकर ऐसा काम करके दिखाया जो आजाद भारत में किसी ने नहीं किया है। योगी ने गढ़वा जिले के श्री बंशीधर नगर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आजादी के बाद से किसी ने अनुच्छेद 370 हटाने के बारे में ठीक से सोचा तक नहीं था और सदा जम्मू कश्मीर और देश के लोगों को इस मुद्दे पर डराकर रखा लेकिन प्रधानमंत्री मोदी और शाह ने वह साहस दिखाया और इस स्थिति को पूरी तरह से बदल दिया।

इसे भी पढ़ें: हम समाजवादी नहीं बल्कि बापू के रामराज्य के समर्थक हैं: योगी आदित्यनाथ

उन्होंने कहा कि जब तक उत्तर प्रदेश ,झारखंड और दिल्ली में एक तरह की सरकार नहीं होगी तब तक समस्या का समाधान संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री ने सभी गरीबों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना तथा आंबेडकर योजना के तहत पक्का मकान दिया है क्योंकि प्रधानमंत्री की जो विकास के बारे में सोच है वह सोच दूसरे दलों की नहीं हो सकती है। उन्होंने कहा कि झारखंड में भी रघुवर दास की सरकार ने किसानों को प्रति एकड़ 5 हजार रुपये किसान आशीर्वाद योजना के तहत दिये है। महिलाओं को सम्मान से जीने के लिए उज्ज्वला योजना के तहत रसोई गैस सिलेंडर देने की व्यवस्था की गयी है।

इसे भी पढ़ें: योगी सरकार का बड़ा ऐलान, दोषियों की सम्पत्ति जब्त कर दिलायेंगे PF की एक-एक पाई

बाद में पलामू के हुसैनाबाद में एक अन्य जनसभा में योगी ने कहा है कि हिन्दू जीवन शैली ही राष्ट्रवाद की प्रतीक है और इसके बगैर राष्ट्रीयता की भावना अधूरी है। हुसैनाबाद में भारतीय जनता पार्टी समर्थित निर्दलीय उम्मीदवार विनोद कुमार सिंह के पक्ष में एक सभा में योगी ने कहा कि अयोध्या समाधान, राष्ट्रीय भावना का प्रकटीकरण है और इसके बगैर हिन्दू सभ्यता-संस्कृति की कल्पना नहीं की जा सकती है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।