राउत की गिरफ्तारी से नाराज सांसद प्रियंका चतुर्वेदी संसद के बाहर बैनर के साथ आईं नजर, कहा- हम दबेंगे नहीं और ना झुकेंगे

Priyanka Chaturvedi
Creative Common
अभिनय आकाश । Aug 01, 2022 1:54PM
संजय राउत की गिरफ्तारी के खिलाफ शिवसेना सांसद आवाज उठा रहे हैं। राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने संसद भवन के बाहर बैनर लेकर बीजेपी और ईडी पर निशाना साधा।

ईडी ने पात्रा चाल घोटाले के सिलसिले में शिवसेना के सांसद संजय राउत को गिरफ्तार किया है। की सुबह ईडी के 10 अधिकारी राउत के भांडुप स्थित मैत्री स्थित आवास पर पहुंचे। इस दौरान सुरक्षा के लिए सीआईएसएफ के जवानों को भी तैनात किया गया था। ईडी के अधिकारी सुबह सात बजे से राउत के घर की जांच कर रहे थे। दोपहर बाद रात को राउत को हिरासत में लेकर ईडी कार्यालय लाया गया। ईडी ने संजय राउत को आधी रात 12 बजकर 40 मिनट पर गिरफ्तार किया। इसके बाद, सोशल मीडिया और राजनीतिक नेताओं ने भी इस कदम के खिलाफ अपनी राय व्यक्त की। ऐसे में शिवसेना ने नाराजगी जाहिर की है। अब सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने संसद भवन के बाहर तख्तियां दिखाकर बीजेपी पर निशाना साधा है। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा के साथ मुख्यमंत्री पद साझा करने का मुद्दा 2019 में बातचीत से सुलझ सकता था : महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे

ईडी द्वारा संजय राउत की गिरफ्तारी के बाद देशभर से तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। इस पर राज्य के कई नेताओं ने कमेंट किया है। इसलिए संसद के मौजूदा सत्र में भी महंगाई और संजय राउत के खिलाफ कार्रवाई समेत अन्य अहम मुद्दों पर चर्चा हो सकती है। संजय राउत की गिरफ्तारी के खिलाफ शिवसेना सांसद आवाज उठा रहे हैं। राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने संसद भवन के बाहर बैनर लेकर बीजेपी और ईडी पर निशाना साधा। शिवसेना नेता ने ईडी का मतलब बीजेपी का विस्तारित विभाग बताया है। चतुर्वेदी ने ईडी की आलोचना करते हुए कहा है कि ये बीजेपी के विस्तारित विभाग के तौर पर काम कर रही है। 

महाराष्ट्र की आवाज दबाने की कोशिश

संजय राउत की गिरफ्तारी पर शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने भी अपनी राय रखी है। महाराष्ट्र की आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है। आदित्य ठाकरे ने कहा कि संजय राउत की गिरफ्तारी एक बड़ी साजिश है। आदित्य ठाकरे ने कहा कि संजय राउत की गिरफ्तारी एक बड़ी साजिश है। शिवसेना नेता और विधायक आदित्य ठाकरे की 'शिव संवाद' यात्रा का दूसरा चरण आज से शुरू हो रहा है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़