सांसद रघु रामकृष्ण राजू ने जगनमोहन रेड्डी को लिखा पत्र,अपने आप को बताया भरोसेमंद सिपाही

Raghurama Krishnam Raju
वाईएसआरसी के सांसद रघु रामकृष्ण राजू ने पार्टी संगठन की वैधता पर भी कई प्रश्न खड़े किये। पिछले कुछ दिनों से वह टीटीडी संपत्तियों की प्रस्तावित बिक्री और आवास स्थल वितरण में कथित भ्रष्टाचार जैसे मुद्दों पर सरकार के प्रति मुखर रहे हैं।

अमरावती। वाईएसआरसी के सांसद रघु रामकृष्ण राजू ने सोमवार को आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व के प्रति अपनी निष्ठा प्रकट करते हुए और अपने विरूद्ध लगे आरोपों का खंडन करते हुए उन्हें छह पृष्ठ का एक पत्र लिखा। पिछले बुधवार को वाईएसआरसी ने नरसापुरम से लोकसभा सदस्य राजू को ‘सार्वजनिक रूप से पार्टी लाइन से हटकर रूख अपनाने’ को लेकर कारण बताओ नोटिस जारी किया था। पार्टी लाइन से आगे जाने को लेकर भेजे गये कारण बताओ नोटिस का जवाब देते हुए राजू ने पार्टी महासचिव वी विजय साई रेड्डी के क्षेत्राधिकार पर सवाल उठाया और सभी को गुमराह करने को लेकर कानूनी कार्रवाई की धमकी दी।

इसे भी पढ़ें: जगन मोहन रेड्डी का अधिकारियों को निर्देश, कहा- तय समय में जारी किए जाएं पहचान पत्र 

राजू ने पार्टी संगठन की वैधता पर भी कई प्रश्न खड़े किये। पिछले कुछ दिनों से वह टीटीडी संपत्तियों की प्रस्तावित बिक्री और आवास स्थल वितरण में कथित भ्रष्टाचार जैसे मुद्दों पर सरकार के प्रति मुखर रहे हैं तथा पश्चिम गोदावरी जिले में विधायकों के साथ उनका वाकयुद्ध भी हुआ है। मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में उन्होंने अपने आप को भरोसेमंद सिपाही कहा जिसने पार्टी की नीतियों को कायम रखा और उसका सम्मान बढ़ाया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़