कांग्रेस ने नगर निगम चुनाव की तैयारी की शुरू, कहा- MVA एक साथ आए तो भाजपा को दे सकते हैं मात

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 24, 2020   14:03
कांग्रेस ने नगर निगम चुनाव की तैयारी की शुरू, कहा- MVA एक साथ आए तो भाजपा को दे सकते हैं मात

कांग्रेस ने कहा कि महा विकास आघाड़ी (एमवीए) भले ही तीन पार्टियों की सरकार है लेकिन कांग्रेस ने लोगों के कल्याण के लिए काम करने की तैयारी शुरू कर दी है।

मुम्बई। महाराष्ट्र में महा विकास आघाड़ी सरकार में शामिल कांग्रेस पार्टी ने अगले साल राज्य में होने वाले नगर निगम और स्थानीय निकाय चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है और उसका कहना है कि एमवीए के एकसाथ चुनाव लड़ने पर भाजपा को मात देना मुश्किल नहीं होगा। महा विकास आघाड़ी (एमवीए) में शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (नेकां)भी शामिल हैं। महाराष्ट्र कांग्रेस ने बुधवार को जारी एक बयान में कहा कि इन चुनाव के लिए पार्टी के राज्य प्रमुख बालासाहेब थोरात ने 13 सदस्यीस एक चुनाव प्रबंधक समिति और पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की है। नवी मुम्बई, औरंगाबाद, वसई-विरार, कल्याण-डोम्बिवली और कोल्हापुर नगर निगम में 2021 में चुनाव होने हैं। इनके अलावा दो जिला परिषद, 13 नगर परिषद और 83 नगर पंचायत में अगले साल चुनाव होने हैं। 

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र NCP के कार्यकर्ताओं को संदेश, जमीनी स्तर पर शिवसेना के साथ सामंजस्य बनाएं 

कांग्रेस ने एक बयान में कहा कि विधान परिषद चुनाव के नागपुर स्नातक और पुणे शिक्षक के हालिया चुनावों में पार्टी की जीत ने पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाया है। उसने कहा कि महा विकास आघाड़ी (एमवीए) भले ही तीन पार्टियों की सरकार है लेकिन कांग्रेस ने लोगों के कल्याण के लिए काम करने की तैयारी शुरू कर दी है। उसने कहा, ‘‘ अगर तीनों पार्टियों एक साथ आती हैं, तो भाजपा को मात देना मुश्किल नहीं होगा।’’ कांग्रेस सूत्र ने कहा कि पार्टी अगले साल स्थानीय निकाय चुनाव के लिए शिवसेना और राकांपा के साथ गठबंधन करने के लिए तैयार है। सूत्र ने कहा कि अंतिम निर्णय स्थानीय नेताओं के साथ विचार-विमर्श के बाद लिया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।