जम्मू कश्मीर मुद्दे से निपटने में नेहरू थे गलत, पटेल सही: रविशंकर प्रसाद

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 23, 2019   09:09
जम्मू कश्मीर मुद्दे से निपटने में नेहरू थे गलत, पटेल सही: रविशंकर प्रसाद

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की “सोच” भारत में जम्मू कश्मीर के विलय को लेकर सही दिशा में थी।

पटना। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने रविवार को दावा किया कि भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने स्वतंत्रता के बाद जम्मू कश्मीर के मुद्दे को लेकर “गलत रुख” अपनाया। प्रसाद ने कहा कि देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की “सोच” भारत में जम्मू कश्मीर के विलय को लेकर सही दिशा में थी। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता के समय देश में 660 रियासतें थीं। जम्मू कश्मीर को छोड़कर सरदार पटेल ने बाकी सभी रियासतों के भारत में विलय का काम देखा और वहां किसी तरह की कोई समस्या नहीं हई। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जम्मू कश्मीर का मुद्दा जवाहरलाल नेहरू ने देखा और समस्या आज तक बनी हुई है।

इसे भी पढ़ें: NBA बास्केटबॉल प्रतियोगिता देखना चाहते हैं ट्रंप, PM मोदी ने दिया न्योता

केंद्र द्वारा जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35ए को रद्द किये जाने के फैसले को लेकर केंद्रीय कानून मंत्री भाजपा के जन जागरण अभियान को संबोधित कर रहे थे। प्रसाद ने कहा कि यह दिखाता है कि पटेल की सोच सही थी जबकि नेहरू का रुख गलत। हमें पहले यह निश्चित रूप से मानना होगा। पटेल के सचिव वी शंकर द्वारा लिखी किताब का संदर्भ देते हुए प्रसाद ने कहा कि तत्कालीन गृह मंत्री ने उन्हें बताया था कि अनुच्छेद 370 उस दिन रद्द हो जाएगा जब साहस वाला कोई नेता आएगा। उन्होंने कहा कि साहस और दृढ़ता वाला एक नेता यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रूप में है, जिन्होंने 70 साल बाद एक झटके में अनुच्छेद 370 को रद्द कर दिया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।