यूपी में सरकारी विभागों में हड़ताल पर 6 महीने तक रोक, प्रियंका बोलीं- तानाशाही पर उतारू भाजपा सरकार

यूपी में सरकारी विभागों में हड़ताल पर 6 महीने तक रोक, प्रियंका बोलीं- तानाशाही पर उतारू भाजपा सरकार

प्रियंका गांधी ने अपने फेसबुक पोस्ट के जरिए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार तानाशाही पर उतारू है। उप्र के कर्मचारी संगठनों की तमाम मांगें लंबित हैं। उन्होंने पंचायत चुनावों में बहुतों को खोया है। सरकार उनके साथ बैठकर बात करने की बजाय प्रदेश में तीसरी बार एस्मा लगा रही है।

उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा के चुनाव होने हैं। इन सबके बीच राजनीतिक रूप से जमकर वार-पलटवार किए जा रहे है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी उत्तर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है। दरअसल, उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी अधीनस्थ लोक सेवाओं, प्राधिकरण और निगमों समेत सभी सरकारी विभागों में हड़ताल पर 6 माह तक के लिए रोक लगा दी है। इसी बात को लेकर प्रियंका गांधी ने अब यूपी सरकार पर निशाना साधा है।प्रियंका गांधी ने अपने फेसबुक पोस्ट के जरिए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार तानाशाही पर उतारू है। उप्र के कर्मचारी संगठनों की तमाम मांगें लंबित हैं। उन्होंने पंचायत चुनावों में बहुतों को खोया है। सरकार उनके साथ बैठकर बात करने की बजाय प्रदेश में तीसरी बार एस्मा लगा रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार की नीति कर्मचारियों के लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन है। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बृहस्पतिवार को बताया कि सरकार ने लोक हित को देखते हुए उत्तर प्रदेश अत्यावश्यक सेवाओं का अनुरक्षण अधिनियम (यूपी—एस्मा)-1966 के अधीन शक्तियों का प्रयोग करके सरकारी सेवाओं में हड़ताल करने पर छह माह के लिए रोक सम्बन्धी आदेश जारी किया गया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।