उप चुनाव से पहले कांग्रेस को एक और झटका, विधायक इस्तीफा देकर बीजेपी में हुआ शामिल

MLA resigns and joins BJP
दिनेश शुक्ल । Oct 25, 2020 12:04PM
रविवार को प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा को इस्तीफा देने के बाद राहुल सिंह लोधी ने कहा कि वह दो दिन पहले ही अध्यक्ष को विधानसभा की सदस्यता छोड़ने का आवेदन दे चुके थे। वही रविवार को विधिवत राहुल सिंह लोधी ने प्रोटेम स्पीकर को इस्तीफा दे दिया है। जिसे प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने स्वीकर करते हुए अग्रिम कार्यवाही के लिए भेज दिया है।

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा उप चुनाव से पहले कांग्रेस को एक और झटका लगा है। कांग्रेस विधायक राहुल सिंह लोधी ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। राहुल सिंह लोधी विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस की टिकिट से दमोह विधानसभा सीट से जीत कर सदन में पहुँचे थे। रविवार को प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा को इस्तीफा देने के बाद राहुल सिंह लोधी ने कहा कि वह दो दिन पहले ही अध्यक्ष को विधानसभा की सदस्यता छोड़ने का आवेदन दे चुके थे। वही रविवार को विधिवत राहुल सिंह लोधी ने प्रोटेम स्पीकर को इस्तीफा दे दिया है। जिसे प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने स्वीकर करते हुए अग्रिम कार्यवाही के लिए भेज दिया है। 

इसे भी पढ़ें: कांग्रेसी कार्यकर्ता के पैरों में गिरे सिंधिया समर्थक मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर

राहुल सिंह लोधी कांग्रेस के टिकिट पर दमोह विधानसभा क्षेत्र से पहली बार विधायक के रूप में चुनकर आए थे। वही पिछले 7 महिनों में बदली राजनीतिक परिस्थितियों के चलते कांग्रेस की कमलनाथ सरकार को सत्ता से हाथ धोना पड़ा था। जिसके बाद भाजपा की शिवराज सरकार ने 22 मार्च को शपथ ली थी। विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने वाले 25 विधायकों और 3 विधायकों के निधन के बाद 28 विधानसभा सीटों पर उप चुनाव की घोषणा की गई थी। जिसके लिए चुनाव प्रचार चल रहा है और 03 नवम्बर को मतदान होना है जिसके परिणाम 10 नवम्बर को परिणाम आएगें। लेकिन उससे पहले ही दमोह विधायक राहुल सिंह लोधी ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देकर कांग्रेस को एक और झटका दिया है। वही इस्तीफा देने के बाद राहुल सिंह लोधी भाजपा में शामिल हो रहे है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़