राजनाथ सिंह ने कहा- सीएए, एनआरसी पर विपक्ष लोगों को गुमराह कर रहा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 29, 2020   08:38
राजनाथ सिंह ने कहा- सीएए, एनआरसी पर विपक्ष लोगों को गुमराह कर रहा

आम आदमी पार्टी पर निशाना साधते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल साफ पानी, पर्याप्त बसें और मुफ्त वाई फाई मुहैया कराने में ‘‘बुरी तरह नाकाम’’ रहे हैं।

नयी दिल्ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को आरोप लगाया कि विपक्षी दल नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के मुद्दे पर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीएए के तहत किसी के भी नागरिकता अधिकार को लिया नहीं जाएगा।  अगले महीने विधानसभा चुनाव के पहले कोंडली में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा, ‘‘कुछ लोग सीएए पर राजनीति कर रहे हैं लेकिन हम उन्हें सफल नहीं होने देंगे।’’ 

इसे भी पढ़ें: शाहीन बाग में कोई प्रदर्शनकारी मर क्यों नहीं रहा है?: दिलीप घोष

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘मैं उन्हें (विपक्षी दलों) बताना चाहता हूं कि वे विपक्ष का दायित्व निभाऐं। लेकिन, उन्हें अपना राष्ट्रधर्म नहीं भूलना चाहिए।’’ त्रिलोकपुरी में दूसरी रैली में उन्होंने कहा कि मोदी सरकार धर्म को लेकर राजनीति नहीं करती है। उन्होंने कहा, ‘‘सीएए के मुद्दे पर वे (विपक्षी दल) नफरत की स्याही से इतिहास लिखने की कोशिश कर रहे हैं। कई स्थानों पर प्रदर्शन हो रहे हैं। भाजपा धर्म पर राजनीति नहीं करती है।’’ आम आदमी पार्टी पर निशाना साधते हुए सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल साफ पानी, पर्याप्त बसें और मुफ्त वाई फाई मुहैया कराने में ‘‘बुरी तरह नाकाम’’ रहे हैं।  सिंह ने कहा, ‘‘वे कह रहे हैं कि उन्होंने मुफ्त पानी और मुफ्त बिजली दी है। लेकिन कोई भी कुछ सिक्कों से हमारे ईमान को खरीद नहीं सकता। भारत के लोगों का आत्मसम्मान है।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।