ओवैसी बंधुओं का मोदी पर प्रहार, कहा- कभी चायवाला बन जाते हैं तो कभी चौकीदार

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 25 2019 5:35PM
ओवैसी बंधुओं का मोदी पर प्रहार, कहा- कभी चायवाला बन जाते हैं तो कभी चौकीदार
Image Source: Google

पुराने शहर की चंद्रायनगुट्टा सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) विधायक अकबरुद्दीन ने प्रधानमंत्री के चौकीदार अभियान का माखौल उड़ाया।

हैदराबाद। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने पुलवामा आतंकवादी हमले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और पूछा कि क्या वे ‘‘’बीफ बिरयानी खाकर सो गए थे’ जबकि सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए। असदुद्दीन के छोटे भाई एवं पार्टी विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी ने भी मोदी पर उनके ‘मैं भी चौकीदार’ अभियान को लेकर निशाना साधा और कहा कि यदि प्रधानमंत्री एक वाचमैन बनना चाहते हैं तो वह उन्हें चौकीदार की टोपी और सीटी देंगे। हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ने शनिवार को यहां एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए गृहमंत्री राजनाथ सिंह के उस बयान को रेखांकित किया कि नेशनल टेक्निकल रिसर्च आर्गेनाइजेशन (एनटीआरओ) ने पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों द्वारा हवाई हमले से पहले वहां करीब 300 ‘‘सक्रिय’’ मोबाइल फोन होने का पता लगाया था।



 
असदुद्दीन ने सवाल किया, ‘‘मैं राजनाथ सिंह और प्रधानमंत्री मोदी से पूछना चाहता हूं कि यदि एनटीआरओ बालाकोट में करीब 300 मोबाइल फोन देख सकता है तो क्या दिल्ली में बैठकर आप यह नहीं देख पाये कि किस तरह से 50 किलोग्राम आरडीएक्स पुलवामा में लाया गया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘...आपकी नाक के नीचे 50 किलोग्राम आरडीएक्स पुलवामा में लाया गया। क्या आप उसे नहीं देख पाये? क्या आप सोये हुए थे? क्या आपने बिरयानी खायी थी। हो सकता है कि आपने बीफ बिरयानी खायी हो और सो गए हों। यहां हमारे 40 लोग शहीद हो गए।’’ 14 फरवरी को दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में एक आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। 
 
 
पुराने शहर की चंद्रायनगुट्टा सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) विधायक अकबरुद्दीन ने प्रधानमंत्री के चौकीदार अभियान का माखौल उड़ाया। उन्होंने कहा, ‘‘मैं ‘मोदी भक्तों’ पर और मोदी को वोट करने वालों पर हैरान हूं। कभी मोदी चायवाला बन जाते हैं और कभी फकीर।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं नरेंद्र मोदी से कहना चाहता हूं कि आप एक ‘चायवाला’ थे और जनता ने आपको प्रधानमंत्री बनाया और अब आप कह रहे हैं कि आप एक चौकीदार हैं। किसके चौकीदार? मैं सोशल मीडिया पर नहीं हूं। मेरे एक मित्र ने ट्विटर पर चौकीदार नरेंद्र मोदी, चौकीदार अमित शाह के बारे में दिखाया।’’ अकबरुद्दीन ने कहा, ‘‘चौकीदार केवल ट्विटर पर ही क्यों? चौकीदार आधारकार्ड, वोटरकार्ड और नरेंद्र मोदी के पासपोर्ट पर भी डालें।’’ आम चुनाव से पहले भाजपा ने ‘मैं भी चौकीदार’ अभियान तेज कर दिया है और मोदी के साथ ही पार्टी अध्यक्ष अमित शाह सहित सभी वरिष्ठ नेताओं ने अपने ट्विटर हैंडल में ‘‘चौकीदार’’ शब्द जोड़ लिया है।
 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप