पार्टी के आंतरिक मुद्दों को सार्वजनिक नहीं करना चाहिए: अमरिंदर सिंह

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 27, 2020   14:38
पार्टी के आंतरिक मुद्दों को सार्वजनिक नहीं करना चाहिए: अमरिंदर सिंह

कांग्रेस के भीतर लोकतंत्र की कमी के आरोपों को खारिज करते हुए सिंह ने कहा कि पार्टी के नेता और कार्यकर्ता अपनी शिकायतें पार्टी प्रमुख या कार्य समिति के सामने रखने के लिए स्वतंत्र हैं।

चंडीगढ़। बिहार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के कमजोर प्रदर्शन को लेकर पार्टी के कुछ नेताओं द्वारा तल्ख बयानबाजी के बीच, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बृहस्पतिवार को कहा कि पार्टी के आंतरिक मुद्दों को सार्वजनिक तौर पर सामने नहीं लाना चाहिए। कांग्रेस के भीतर लोकतंत्र की कमी के आरोपों को खारिज करते हुए सिंह ने कहा कि पार्टी के नेता और कार्यकर्ता अपनी शिकायतें पार्टी प्रमुख या कार्य समिति के सामने रखने के लिए स्वतंत्र हैं। 

इसे भी पढ़ें: राहुल की मांग, कोविड अस्पताल में आग लगने की गंभीरता से जांच होनी चाहिए

पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘अगर आप कांग्रेसी हैं तो आप पार्टी अध्यक्ष या कांग्रेस कार्यसमिति के पास पार्टी की कार्यशैली को लेकर अपनी शिकायतें लेकर जा सकते हैं। लेकिन सार्वजनिक तौर पर इसे सामने नहीं लाना चाहिए। अगर आप ऐसा करते हैं तो आप पार्टी छोड़ सकते हैं।’’  एक बयान में सिंह ने कहा कि उन्हें यह सीख पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से मिली थी जब वह कांग्रेस के सांसद थे। सिंह ने कहा कि कांग्रस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने असहमति जताने वाले नेताओं को कभी दंडित नहीं किया और इसके बजाए उन्हें विभिन्न कमेटियों का सदस्य बनाया। यह पार्टी के भीतर सच्चे लोकतंत्र को दिखाता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...