• भोपाल में लगातार सामने आ रहे डेल्टा प्लस वेरिएंट से पीड़ित मरीज

सुयश भट्ट Jun 26, 2021 11:33

मध्य प्रदेश में कोरोना के डेल्टा प्लस वेरिएंट के अब तक 8 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। इनमें से 2 मरीजों की मौत हो गई है।हालांकि अभी तक जमीन पर काम करने वाले अधिकारियों को राज्य सरकार की तरफ से कोई दिशा निर्देश जारी नहीं किए गए हैं।

भोपाल। राजधानी भोपाल में कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका के बीच डेल्टा प्लस के मामले लगातार मामले सामने आ रहे हैं। शुक्रवार को डेल्टा प्लस का 8वां मामला सामने आया है। फिलहाल राहत की बात यह है कि वह स्वस्थ है और घर पर है।

इसे भी पढ़ें:इंडिया स्मार्ट सिटी कांटेस्ट 2020 में मध्यप्रदेश रहा दूसरे स्थान पर 

बता दें कि डेल्टा प्लस वेरिएंट मिलने के बाद केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को अलर्ट जारी किया था। इसमें संक्रमण को रोकने के लिए भीड़ को नियंत्रित करने, कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कराने की सलाह दी थी। हालांकि अभी तक जमीन पर काम करने वाले अधिकारियों को राज्य सरकार की तरफ से कोई दिशा निर्देश जारी नहीं किए गए हैं।

इसे भी पढ़ें:मध्य प्रदेश में डेल्टा प्लस वेरिएंट के 7 मामलों की हुई पुष्टि, 2 साल की बच्ची ने जीती जंग 

वहीं डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि होने वाले बैरागढ़ निवासी है। युवक 5 जून को संक्रमित हुआ था। उसका एक निजी अस्पताल में 9 दिन इलाज चला। जिसके बाद वह स्वस्थ्य होकर घर चला गया। युवक को वैक्सीन नहीं लगी है। उसके संपर्क में आने वाले भी स्वस्थ हैं।