लोग कांग्रेस के शासन से तंग आ चुके है : अरुण सिंह

Arun Singh
प्रतिरूप फोटो
भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और राजस्थान के प्रभारी अरुण सिंह ने सोमवार को विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि भाजपा उपचुनाव में दोनों विधानसभा सीटों वल्लभनगर (उदयपुर) और धरियावाद (प्रतापगढ) से जीत हासिल करेगी।

उदयपुर| भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और राजस्थान के प्रभारी अरुण सिंह ने सोमवार को राज्य की अशोक गहलोत सरकार पर विकास ठप करने का आरोप लगाते हुए कहा कि लोग कांग्रेस के शासन से तंग आ चुके हैं।

उन्होंने कहा कि लोगों ने महसूस किया कि पिछली भाजपा सरकार में विकास के व्यापक कार्य किए गए थे, लेकिन मौजूदा कांग्रेस सरकार में कोई काम नहीं हुआ है। प्रतापगढ जिले के धरियावाद विधानसभा क्षेत्र में सोमवार को एक चुनावी रैली को संबोंधित करते हुए उन्होंने कहा कि इस बार जनता कांग्रेस को आईना जरूर दिखायेगी।

इसे भी पढ़ें: नीति आयोग उपाध्यक्ष ने टेस्ला से भारत में इलेक्ट्रिक कार बनाने का आग्रह किया

सिंह ने विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि भाजपा उपचुनाव में दोनों विधानसभा सीटों वल्लभनगर (उदयपुर) और धरियावाद (प्रतापगढ) से जीत हासिल करेगी। भाजपा के राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि गहलोत सरकार ने जनता से कई वादे किये, लेकिन उन्हें पूरा नहीं किया। राजस्थान विधानसभा में प्रतिपक्ष के उपनेता राजेन्द्र राठौड़ ने कहा कि धरियावाद विधानसभा में इस बार भी आदिवासी भाई-बहन झूठे वादे करने वाली कांग्रेस सरकार के बहकावे में नहीं आएंगे।

राठौड़ ने कहा कि नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की नवीनतम रिपोर्ट के अनसुार अनुसूचित जनजाति के खिलाफ अपराधों में राजस्थान का देश में दूसरा स्थान है।

उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज के खिलाफ अत्याचार चरम पर है, लेकिन राज्य सरकार आदिवासियों को विकास की मुख्यधारा से जानबूझकर दूर कर रही है और महज वोट-बैंक के रूप में इस्तेमाल कर रही है। दोनों विधानसभा क्षेत्रों में मतदान 30 अक्टूबर को होगा और मतगणना दो नवंबर को होगी।

इसे भी पढ़ें: गहलोत के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी : कांग्रेस नेताओं के निशाने पर आए केंद्रीय मंत्री बघेल

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़