पायलट का आलाकमान को आश्वासन! विधायकों को साथ लाना मेरी जिम्मेदारी, गहलोत को अध्यक्ष के साथ नहीं रहना चाहिए CM

Pilot
ANI
अभिनय आकाश । Sep 27, 2022 1:59PM
कांग्रेस विधायक सचिन पायलट ने कांग्रेस आलाकमान से कहा है कि अगर राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत पार्टी अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने का फैसला करते हैं तो उन्हें सीएम नहीं रहना चाहिए। इसके साथ ही पायलट ने कहा है कि विधायकों को साथ लाना उनकी जिम्मेदारी है।

राजस्थान कांग्रेस का सियासी घमासान और मुख्यमंत्री पद को लेकर मची खींचतान के बीच अध्यक्ष चुनाव की नामांकन प्रक्रिया भी जारी है। खबह है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री पद का फैसला भी पार्टी के अध्यक्ष चुनाव के बाद होगा। माकन-खड़गे सोनिया गांधी को रिपोर्ट सौंप सौपेंगे। वहीं कहा जा रहा है कि 30 सितंबर तक यथास्थिति बनी रहेगी। पूरे मुद्दे पर बेहद खामोश रहने वाले सचिन पायलट को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार कांग्रेस विधायक सचिन पायलट ने कांग्रेस आलाकमान से कहा है कि अगर राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत पार्टी अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने का फैसला करते हैं तो उन्हें सीएम नहीं रहना चाहिए। इसके साथ ही पायलट ने कहा है कि विधायकों को साथ लाना उनकी जिम्मेदारी है।

इसे भी पढ़ें: Rajasthan Crisis। सचिन पायलट के खेमे में बढ़ने लगी हलचल, सीएम चेहरे को लेकर कही जा रही यह बात

कांग्रेस विधायक सचिन पायलट समर्थन करने वाले विधायकों के अलावा अन्य विधायकों के लगातार संपर्क में हैं। उन्होंने आगे अपने समर्थकों से आलाकमान के फैसले का इंतजार करने को कहा है। गौरतलब है कि गहलोत खेमे के विधायकों के तीखे तेवर के बावजूद सचिन पायलट ने इस बार लगातार चुप्पी साध रखी है। जिसके बाद हर कोई ये जानना चाहता है कि आखिर पायलट का अगला दांव क्या होगा? इसके साथ ही कहा जा रहा है कि जिस तरह से कांग्रेस आलाकमान उनके सपोर्ट में दिख रहा है वो मैन ऑफ द मैच बनकर उभरेंगे। 

अन्य न्यूज़