भारत एक स्वच्छ और आधुनिक परिवहन व्यवस्था की तरह बढ़ने को प्रतिबद्ध: PM मोदी

PM MODI
मोदी ने कहा कि वैश्विक वाहन कंपनियों की विनिर्माण इकाइयां भारत में हैं। इससे भारत के संपन्न पारिस्थितिकी तंत्र का पता चलता है। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही हमें अपने पर्यावरण, संसाधनों और कच्चे माल का संरक्षण करने की भी जरूरत है।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि वाहन विनिर्माण से जुड़ी मूल्य श्रृंखला के लिए समग्र उपाय किए जा रहे हैं। इससे यह उद्योग अधिक उत्पादक और टिकाऊ बन सकेगा। सोसायटी आफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) को उसके 61वें वार्षिक सम्मेलन के मौके पर बुधवार को संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत एक स्वच्छ और आधुनिक परिवहन व्यवस्था (मोबिलिटी) के लक्ष्य को लेकर पूरी तरह प्रतिबद्ध है। उन्होंने देश की प्रगति में उद्योग के योगदान की सराहना की। मोदी के संदेश को वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम के अध्यक्ष केनिची आयुकावा ने पढ़कर सुनाया।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी ने 70 साल की पूंजी को बेच दिया, युवाओं के हाथों से छीना रोजगार: राहुल गांधी

अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘भारत की अर्थव्यवस्था और प्रगति में वाहन उद्योग की भूमिका काफी शानदार रही है। इस क्षेत्र ने विनिर्माण के साथ निर्यात बढ़ाने में योगदान दिया। साथ ही क्षेत्र ने बड़ी संख्या में रोजगार के अवसरों का सृजन किया और लोगों के जीवन को सुगम बनाया। देश की वृद्धि की कहानी में यह क्षेत्र भागीदार रहा है।’’ मोदी ने कहा कि कोविड-19 महामारी से संघर्ष के दौरान भी क्षेत्र ने संवेदनशील और सक्रिय तरीके से अपना योगदान दिया। उन्होंने कहा कि 21वीं सदी का भारत स्वच्छ और आधुनिक मोबिलिटी के लक्ष्य की ओर बढ़ रहा है। वाहन विनिर्माण से जुड़ी मूल्य श्रृंखला के लिए समग्र उपाय किए जा रहे है। इससे यह उद्योग अधिक उत्पादक और सतत बन सकेगा। उन्होंने वाहन उद्योग को भरोसा दिलाया कि भारत को विनिर्माण का वैश्विक केंद्र बनाने में सभी अंशधारकों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।

इसे भी पढ़ें: शिवसेना सांसद ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, नारायण राणे को बर्खास्त करने की मांग की

मोदी ने कहा कि वैश्विक वाहन कंपनियों की विनिर्माण इकाइयां भारत में हैं। इससे भारत के संपन्न पारिस्थितिकी तंत्र का पता चलता है। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही हमें अपने पर्यावरण, संसाधनों और कच्चे माल का संरक्षण करने की भी जरूरत है। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है। अगले 25 साल देश के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। मोदी ने कहा, ‘‘हमें अगली पीढ़ी के बुनियादी ढांचे, विश्वस्तरीय विनिर्माण और प्रौद्योगिकी के लिए काम करने की जरूरत है।’’ उन्होंने कहा कि भारत अपने नागरिकों को वैश्विक स्तर की गुणवत्ता और सुरक्षा प्रदान करने को प्रतिबद्ध है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़