कमलनाथ के बयान पर MP में राजनीतिक बवाल, शिवराज बोले- वह मानसिक संतुलन खो चुके

कमलनाथ के बयान पर MP में राजनीतिक बवाल, शिवराज बोले-  वह मानसिक संतुलन खो चुके

इस वीडियो में कमलनाथ साफ तौर पर यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि भारत महान नहीं है, भारत बदनाम है। इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा कि इसी वजह से कई देशों ने भारत के लोगों को आने पर पाबंदी लगा दी है।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के नेता कमलनाथ ने एक बार फिर से बयान देकर राजनीति में नई हलचल मचा दी है। दरअसल, अब से कुछ देर पहले कमलनाथ का एक वीडियो वायरल हुआ। इस वीडियो में कमलनाथ साफ तौर पर यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि भारत महान नहीं है, भारत बदनाम है। इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा कि इसी वजह से कई देशों ने भारत के लोगों को आने पर पाबंदी लगा दी है।

इन सब के बीच मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ के बयान पर पलटवार किया है। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सोनिया गांधी को जवाब देना चाहिए। क्या आप कमलनाथ के बयान से सहमत हो? सत्ता जाने के बाद लगता है कमलनाथ ने मानसिक संतुलन खो दिया है। कमलनाथ ने इसी धरती पर जन्म लिया और कह रहे हैं कि भारत बदनाम है। पंडित जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी क्या वे ऐसी कांग्रेस चाहते थे?

बाद में शिवराज ने ट्वीट कर कहा कि 'जाको प्रभु दारुण दुख देही, बाकी मति पहले हर लेही'। 'विनाशकाले, विपरीत बुद्धि'। अरे कमलनाथ जी, मैडम सोनिया गांधी जी, भारत अत्यंत प्राचीन और महान राष्ट्र है! इसकी गौरव गाथाएँ सारे विश्व ने गायी हैं! इसी धरती पर जन्म लिया कमलनाथ जी ने और आज कह रहे हैं कि भारत बदनाम है! क्या अपने देश को बदनाम कहना देश के साथ गद्दारी नहीं है? क्या यही कांग्रेस की सोच है? क्या स्व. पंडित जवाहरलाल नेहरू और स्व. इंदिरा जी ऐसी कांग्रेस चाहते थे? क्या उन्होंने यही शिक्षा दी? मैडम सोनिया जी, मौन तोड़ें! शिवराज ने आगे कहा कि या तो कमलनाथ जी गलत हैं, इसके लिए उन्हें पार्टी से बाहर करें, या फिर यह कह दें कि मैं उनके बयान से सहमत हूँ! ये वही हैं, जो कहते हैं प्रदेश में आग लगा दो! हम जनता के साथ मिलकर दिन और रात कोरोना संक्रमण रोकने में लगे हैं, लेकिन कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बेशर्मी से कह रहे हैं! कमलनाथ जी ने मानसिक संतुलन खो दिया है और यदि संतुलन नहीं खोया तो उनका दृष्टिकोण अत्यंत विकृत है! ऐसे विचार रखने वाले कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष भारत के नागरिक कहलाने के हकदार ही नहीं हैं!  

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के पूर्व CM कमलनाथ बोले- भारत महान नहीं, भारत बदनाम है

कमलनाथ के बयान पर मध्य प्रदेश के मंत्री विश्वास सारंग ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। विश्वास सारंग ने कहा कि जो लोग एक परिवार की चाटुकारिता करते हुए राजनीति करना चाहते हैं, वे इस तरह के बयान देंगे। कमलनाथ जी भारत महान है। आपने  और आपकी पार्टी ने भारत की स्थिति को कमजोर करने की कोशिश ज़रूर की। आप पाकिस्तान और चीन का एजेंडा लेकर राजनीति करना चाहते हैं। इससे पहले भी कमलनाथ ने कोरोना वायरस के भारत वैरिएंट कहकर एक नया विवाद खड़ा कर दिया था।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।