पोस्ट कोविड बेड्स का वर्गीकरण अस्पताल के कोविड बेड्स कैटेगरी के अन्तर्गत एक सब कैटेगरी के रूप में प्रदर्शित हो

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 26, 2021   10:40
पोस्ट कोविड बेड्स का वर्गीकरण अस्पताल के कोविड बेड्स कैटेगरी के अन्तर्गत एक सब कैटेगरी के रूप में प्रदर्शित हो

अस्पतालों द्वारा पब्लिक व्यू पोर्टल पर उनके द्वारा पोस्ट कोविड मरीजों के इलाज के लिए आरक्षित बेड्स का ब्योरा भरा जाये, जिससे कि जिला कमाण्ड सेंटर द्वारा ऐसे मरीजों की भर्ती में सहयोग हो पायें।

नोडल अधिकारी रोशन जैकब ने बताया कि वर्तमान में कोविड-19 से प्रभावित मरीजों की संख्या में कमी के दृष्टिगत कई अस्पतालों ने कोविड के लिए आरक्षित बेड्स की संख्या कम की गई है। उल्लेखनीय है कि कोविड उपचारित कई मरीज श्वसन सम्बन्धी परेशानी या अन्य पोस्ट कोविड सिमटम्स के आधार पर अस्पताल में भर्ती हेतु कमाण्ड सेण्टर से सम्पर्क करते हैं। ऐसे में पोस्ट कोविड मरीजों के इलाज हेतु मेडिकल कालेज एवं निजी अस्पतालों में बेड्स उपलब्ध होना जरूरी है। इसके लिए आवश्यक होगा कि अस्पतालों द्वारा पब्लिक व्यू पोर्टल पर उनके द्वारा पोस्ट कोविड मरीजों के इलाज के लिए आरक्षित बेड्स का ब्योरा भरा जाये, जिससे कि जिला कमाण्ड सेंटर द्वारा ऐसे मरीजों की भर्ती में सहयोग हो पायें।

जैकब ने बताया कि यह ध्यान रखा जाये कि पोस्ट कोविड बेड्स का वर्गीकरण अस्पताल के कोविड बेड्स कैटेगरी के अन्तर्गत एक सब कैटेगरी के रूप में प्रदर्शित हो। यह भी ध्यान रखा जाये कि पोस्ट कोविड मरीज की परिभाषा में उन व्यक्तियों को रखा जाये, जिनका पिछले दो महीने के अन्दर की कोविड धनात्मक होने से सम्बन्धित आरटीपीसीआर/एन्टीजेन/एक्सरे/सिटी स्कैन इत्यादि मौजूद हो।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।