Prabhasakshi's Newsroom । योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी भाजपा । अब पराली से मिलेगा छुटकारा

Prabhasakshi's Newsroom । योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी भाजपा । अब पराली से मिलेगा छुटकारा

उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष के शुरु में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा और निषाद पार्टी एक साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगी। भाजपा मुख्यालय में हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसका ऐलान किया गया। उत्तर प्रदेश भाजपा प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि साल 2022 का उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव हम साथ मिलकर लड़ेंगे।

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा, निषाद पार्टी के साथ उतरेगी और भाजपा योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में ही चुनाव लड़ने वाली है और रणनीतियां भी तैयार हो चुकी है। बात पराली की भी करेंगे। जिसकी वजह से दिल्ली में लोगों का दम घुटने लगता है और ठंड के मौसम में कोहरे से ज्यादा पराली के धुए की वजह से धुंध जैसा माहौल होता है और अंत में बात भारत और स्पेन के बीच हुई डील की करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: जिस ड्रोन से अमेरिका ने कासिम सुलेमानी को मारा वो अब होगा भारत के पास! रक्षा सौदों के लिहाज से पीएम मोदी की यात्रा यूं हुई खास 

योगी के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी भाजपा

उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष के शुरु में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा और निषाद पार्टी एक साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगी। भाजपा मुख्यालय में हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसका ऐलान किया गया। उत्तर प्रदेश भाजपा प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि साल 2022 का उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव हम साथ मिलकर लड़ेंगे और आज दोनों दलों के नेताओं ने इसकी औपचारिक घोषणा की है। हमारे गठबंधन में अपना दल (सोनेलाल) भी जुड़ा है।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले डॉ संजय निषाद ने भाजपा से खुद को उप-मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित कर चुनाव मैदान में उतारने की मांग करते हुए दावा किया था कि राज्य में निषाद समाज के 18 फीसदी वोट हैं और 160 सीटों पर उनकी बिरादरी के मतदाताओं की निर्णायक भूमिका है। साल 2022 के विधानसभा चुनाव में गठबंधन के लिए अलग-अलग समय पर भाजपा से कोई न कोई शर्त रखने वाले डॉ निषाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में किसी सवाल का जवाब नहीं दिया और वह भाजपा नेताओं के बयान पर सहमति में सिर हिलाते रहे।

पराली से अब कोई समस्या नहीं

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि धान की पराली अब कोई समस्या नहीं है और उन्होंने पड़ोसी राज्यों से फसलों के अवशेष का प्रबंधन करने के लिए अपने किसानों को पूसा द्वारा बनाए गए जैव अपघटक उपलब्ध कराने का अनुरोध किया। 

इसे भी पढ़ें: राकेश टिकैत ने अमेरिकी राष्ट्रपति से लगाई गुहार, बोले- डियर बाइडन, मोदी से किसान आंदोलन पर करें बात 

इस सूक्ष्मजीवी घोल का दिल्ली में 844 किसानों की 4,300 एकड़ से अधिक भूमि पर छिड़काव किया जाएगा। पिछले साल 310 किसानों ने 1,935 एकड़ भूमि पर इसका इस्तेमाल किया था। यह घोल पराली को खाद में बदल सकता है। केजरीवाल ने दक्षिण पश्चिम दिल्ली के खरखरी नहर गांव में पूसा जैव अपघटक की तैयारियों का आगाज किया।

एयरबस डिफेंस के साथ हुई डील

रक्षा मंत्रालय ने 56 सी-295 मध्यम परिवहन विमानों की खरीद के लिए स्पेन की एयरबस डिफेंस एंड स्पेस के साथ करीब 20,000 करोड़ रुपए का करार किया है। जिसके तहत भारतीय वायुसेना को 48 महीनों के भीतर स्पेन की कंपनी 16 विमान सौंपेगी। बाकी के 40 विमानों का निर्माण भारत में ही होगा।

आपको बता दें कि स्पेन की कंपनी टाटा के साथ मिलकर विमान का निर्माण करने वाली है। टाटा ट्रस्ट के चेयरमैन रतन टाटा ने करार पर हस्ताक्षर होने पर एयरबस डिफेंस, टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स लिमिटेड और रक्षा मंत्रालय को बधाई दी। उन्होंने कहा कि विमान के निर्माण के लिए एयरबस डिफेंस और टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स के बीच संयुक्त परियोजना को मंजूरी मिलना भारत में उड्डयन और वैमानिकी परियोजनाओं की शुरुआत करने की दिशा में एक बड़ा कदम है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।