अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची की हत्या पर स्तब्ध राहुल और प्रियंका ने कही ये बात

By rajnikant@prabhasakshi.com | Publish Date: Jun 7 2019 2:16PM
अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची की हत्या पर स्तब्ध राहुल और प्रियंका ने कही ये बात
Image Source: Google

पुलिस ने बताया कि अपराध के संबंध में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है और आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत मामला दर्ज किया जायेगा। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसपी) आकाश कुल्हाड़ी ने कहा कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हुई है कि बच्ची की मौत गला घुटने से हुई।

नयी दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अलीगढ़ में तीन साल की एक बच्ची की निर्मम हत्या पर शुक्रवार को दुख जताया और हत्यारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। उन्होंने हैरानी जतायी कि कोई इंसान कैसे एक बच्ची के साथ इतना निर्मम बर्ताव कर सकता है। उन्होंने कहा कि इस तरह के अपराधी को कभी बख्शा नहीं जाना चाहिए। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में एक छोटी बच्ची की निर्मम हत्या से स्तब्ध और व्यथित हूं। आखिर कोई कैसे एक बच्ची के साथ इतनी निर्ममता बरत सकता है? इस खौफनाक अपराधी को निश्चित रूप से बख्शा नहीं जाना चाहिए। हत्यारों को न्याय के कटघरे में लाने के लिये उत्तर प्रदेश पुलिस को निश्चित रूप से कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।’’

इसे भी पढ़ें: पारिवारिक दलों में भी लोकतंत्र लाया जाये, जरूरी हो तो इसके लिए कानून बने

 

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी ट्वीट कर इस अमानवीय अपराध की निंदा की। उन्होंने कहा, ‘‘अलीगढ़ में मासूम बच्ची के साथ हुई अमानवीय और जघन्य घटना ने हिलाकर रख दिया है। हम ये कैसा समाज बना रहे हैं? बच्ची के माता-पिता पर क्या गुजर रही है ये सोचकर दिल दहल जाता है। अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि इस घटना ने उन्हें झकझोर दिया है और जिस तरह का समाज हम बना रहे हैं उससे वह स्तब्ध हैं। उन्होंने इस अपराध के लिये कड़ी सजा की मांग की। अलीगढ़ पुलिस ने कहा कि दो जून को एक कचरे के डिब्बे में बच्ची के शव के टुकड़े मिले और आशंका है कि पैसों से संबंधित विवाद के कारण बच्ची की जान ली गयी। बच्ची 31 मई से लापता थी।

इसे भी पढ़ें: चीनी प्रतिनिधिमंडल ने की सोनिया और राहुल गांधी से मुलाकात



पुलिस ने बताया कि अपराध के संबंध में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है और आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत मामला दर्ज किया जायेगा। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसपी) आकाश कुल्हाड़ी ने कहा कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हुई है कि बच्ची की मौत गला घुटने से हुई। उन्होंने बच्ची के साथ बलात्कार होने की बात से इनकार किया। इलाके में तनाव को देखते हुए सुरक्षा कड़ी कर दी गयी है।

 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video