राहुल गांधी का मोदी सरकार पर तीखा हमला, कहा- हिटलर भी चुनाव जीतकर आया था

Rahul
ANI
अभिनय आकाश । Aug 05, 2022 1:20PM
मोदी सरकार पर वार करते-करते राहुल गांधी ने जर्मन तानाशाह हिटलर का भी जिक्र कर दिया। उन्होंने कहा कि हिटलर भी चुनाव जीतकर आया था। हिटलर कैसे चुनाव जीतता था? उसके पास सारी संस्थान उसके हाथ में थी। उसके पास पूरा ढ़ांचा था।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला। देशभर में महंगाई के खिलाफ कांग्रेस के प्रदर्शन से पहले राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने कहा कि मेरी प्रॉब्लम ये है कि मैं सच्चाई बोलता हूं। डरता नहीं हूं। मैं अपना काम करूंगा। लोकतंत्र के लिए खड़े होने का काम करूंगा। महंगाई, बेरोजगारी का मुद्दा उठाता रहूंगा। मेरे ऊपर और आक्रमण होंगे। जो धमकाता है वो डरता है। ये बात आप समझ लीजिए। ये किससे डरते हैं, जो आज हिन्दुस्तान की हालत है उससे डरते हैं। जो वादें उन्होंने किए थे और पूरे नहीं किए उससे डरते हैं। क्यों डरते हैं क्योंकि 24 घंटे झूठ बोलते हैं। महंगाई नहीं है, चीन नहीं आया।

इसे भी पढ़ें: काले कपड़ों में संसद से लेकर राष्ट्रपति भवन तक कांग्रेस का प्रदर्शन, सरकार के खिलाफ जमकर लगे नारे

मोदी सरकार पर वार  करते-करते राहुल गांधी ने जर्मन तानाशाह हिटलर का भी जिक्र कर दिया। उन्होंने कहा कि हिटलर भी चुनाव जीतकर आया था। हिटलर कैसे चुनाव जीतता था? उसके पास सारी संस्थान उसके हाथ में थी। उसके पास पूरा ढ़ांचा था। मुझे पूरा ढांचा दे दो फिर मैं दिखाऊंगा चुनाव कैसे जीता जाता है। उन्होंने ये भी बताया कि सरकार गांधी परिवार को ही निशाने पर क्यों लेती है।

बीजेपी का तगड़ा पलटवार 

बीजेपी की तरफ से रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस के आरोपों पर पलटवार किया। प्रसाद ने प्रेस कॉनफ्रेंस करते हुए कहा कि मूल रूप से ईडी को डराना धमकाना और परिवार को बताना ही मेन मकसद है। राहुल गांधी ने आज लोकतंत्र पर बहुत ही शर्मनाक और गैर जिम्मेदाराना बात की है। राहुल की दादी ने देश में इमरजेंसी लगाई। रवि शंकर प्रसाद ने राहुल को याद दिलाया कि इंदिरा गांधी ने कम्युटेड ज्युडिश्यरी की बात की थी।  

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़