Bharat Jodo Yatra की राह में मौसम ने खड़ी की अड़चन, Jammu-Kashmir में राहुल गांधी अब दो दिन विश्राम करेंगे

Bharat Jodo Yatra
ANI
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने तीन घंटे तक मौसम में सुधार का इंतजार किया और उन्हें अधिकारियों से मंजूरी मिल गयी, लेकिन सड़क बंद होने की वजह से यात्रा में शामिल लोगों को रामबन में एक और रात बिताने को कहा गया।

खराब मौसम और भूस्खलन की वजह से बुधवार को राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दूसरे चरण को स्थगित करना पड़ा जिसे आज दोपहर के बाद बनिहाल कस्बे से आगे बढ़ना था। राहुल गांधी ने भारी बारिश के बीच बुधवार को सुबह रामबन से यात्रा को आगे बढ़ाया लेकिन खराब मौसम की वजह से उसे रोकना पड़ा। अब यात्रा कल एक दिन के विश्राम के बाद शुक्रवार को फिर से शुरू होगी। वैसे भी जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर रामबन से बनिहाल की यात्रा बड़ी चुनौतीपूर्ण है। हम आपको बता दें कि कश्मीर को बाकी देश से जोड़ने वाले इस 270 किलोमीटर लंबे और एकमात्र राजमार्ग पर पंथियाल, मेहर तथा मगरकोट जैसे अनेक हिस्से हैं जहां बारिश के बीच पहाड़ों से पत्थरों के गिरने की आशंका रहती है।

उधर, रामबन जिले में भारी बारिश के कारण कुछ स्थानों पर पत्थर गिरने के बाद बुधवार को राजमार्ग पर यातायात निलंबित कर दिया गया। बताया जा रहा है कि पत्थर गिरने से एक ट्रक चालक की मौत हो गयी और दो अन्य घायल हो गये। राहुल गांधी की यात्रा के बारे में कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट किया, ‘‘खराब मौसम और इलाके में भूस्खलन की वजह से रामबन और बनिहाल में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के आगे के चरण को रद्द कर दिया गया है। कल विश्राम का दिन है और यात्रा अब परसों 27 जनवरी को सुबह आठ बजे फिर शुरू होगी।’’

इससे पहले आज जम्मू-कश्मीर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता जहांजैब सिरवाल ने कहा था कि यात्रा भारी बारिश के कारण एक घंटे की देरी से बाठी से सुबह करीब नौ बजे शुरू हुई और उसने 131वें दिन पहला चरण पूरा किया। अपनी पहचान बन चुकी सफेद टी-शर्ट पहनकर यात्रा शुरू करने वाले राहुल ने बाद में एक काला रेनकोट पहन लिया। बारिश के बावजूद बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता और समर्थक हाथों में तिरंगा लेकर राहुल के स्वागत के लिए रास्ते पर जमा हुए। जम्मू-कश्मीर कांग्रेस के अध्यक्ष विकार रसूल वानी को राहुल गांधी के साथ चलते हुए और अनेक नेताओं से उनका परिचय कराते हुए देखा गया। बनिहाल निवासी विकार रसूल वानी ने कहा, ‘‘हमने रामबन में करीब छह किलोमीटर की दूरी तय की और आज दोपहर बाद गाड़ियों से, भूस्खलन संभावित क्षेत्र को पार करने के बाद बनिहाल से दो किलोमीटर पहले से यात्रा फिर शुरू करने वाले थे। जिला प्रशासन और पुलिस ने पत्थरों के गिरने के भारी जोखिम के कारण आगे नहीं बढ़ने की सलाह दी, इसलिए आज यात्रा को स्थगित कर दिया गया है।’’

इसे भी पढ़ें: क्या राहुल गांधी को लगता है कि कांग्रेस को कभी दो-तिहाई बहुमत मिलेगा: भाजपा

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने तीन घंटे तक मौसम में सुधार का इंतजार किया और उन्हें अधिकारियों से मंजूरी मिल गयी, लेकिन सड़क बंद होने की वजह से यात्रा में शामिल लोगों को रामबन में एक और रात बिताने को कहा गया। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘यात्रा बृहस्पतिवार को विश्राम करेगी और शुक्रवार को बनिहाल से फिर शुरू होकर कश्मीर में प्रवेश करेगी।’’ अधिकारियों के अनुसार, लांबर में कुछ इंच तक बर्फ गिरी है, जहां यात्रा का रात्रि पड़ाव था। उधर, मौसम विभाग ने आज मैदानी इलाकों में बारिश और ऊंचाई वाले इलाकों में भारी बर्फबारी का पूर्वानुमान जताया है।

उल्लेखनीय है कि राहुल की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ सात सितंबर को कन्याकुमारी से शुरू हुई थी और इसने पंजाब से होते हुए बृहस्पतिवार को जम्मू कश्मीर में प्रवेश किया। यात्रा के अंत में राहुल गांधी का 30 जनवरी को श्रीनगर स्थित पार्टी मुख्यालय में राष्ट्रीय ध्वज फहराने तथा शेर-ए-कश्मीर क्रिकेट स्टेडियम में रैली को संबोधित करने का कार्यक्रम है।

उधर, जहां तक जम्मू-कश्मीर के मौसम की बात है तो आपको बता दें कि कश्मीर में अधिकतर स्थानों पर ताजा बर्फबारी हुई है जिसके चलते दृश्यता घटकर 500 मीटर रह गई है। इस वजह से घाटी में बुधवार को विमान सेवाएं प्रभावित हुईं। कश्मीर के अधिकतर स्थानों पर हल्की से मध्यम बर्फबारी दर्ज की गई, जबकि ऊंचाई वाले इलाकों में भारी बर्फबारी हुई। इस बीच, मौसम विज्ञान विभाग ने दिन बढ़ने पर बारिश की तीव्रता कम होने का पूर्वानुमान लगाया है। अधिकारियों ने बताया है कि श्रीनगर हवाई अड्डे पर सभी उड़ानों की आवाजाही में विलंब हुआ। हालांकि हवाई अड्डे पर अधिक बर्फ एकत्रित नहीं हुई है, लेकिन दृश्यता के 500 मीटर पर पहुंचने से उड़ान संचालन प्रभावित हुआ। उन्होंने बताया कि दृश्यता के कम से कम 1000 मीटर होने पर विमानों का संचालन बहाल किया जाएगा।

अन्य न्यूज़