राष्ट्रपत्नी विवाद को लेकर अधीर रंजन पर बरसे भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, जानें किसने क्या कुछ कहा ?

BJP CMs
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
अनुराग गुप्ता । Jul 28, 2022 10:23PM
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश की महामहिम राष्ट्रपति के प्रति कांग्रेस के सांसद की अभद्र टिप्पणी अत्यंत निंदनीय है। यह टिप्पणी भारत के संविधान, मातृशक्ति, जनजाती समाज और राष्ट्रपति के साथ देश का अपमान है। उन्होंने कहा कि मैं इस अभद्र टिप्पणी के लिए कांग्रेस सांसद और कांग्रेस की निंदा करता हूं।

नयी दिल्ली। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी की लगातार मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) हमलावर हैं। ऐसे में भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने एक के बाद एक अधीर रंजन चौधरी पर निशाना साधा है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लेकर असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा तक ने अधीर रंजन की टिप्पणी को अत्यंत निंदनीय करार दिया।

इसे भी पढ़ें: आपत्तिजनक टिप्पणी कर बुरे फंसे अधीर रंजन, राष्ट्रपत्नी विवाद पर MP में दर्ज हुई FIR, NCW ने भी किया तलब 

यहां पढ़ें किसने क्या कुछ कहा:-

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश की महामहिम राष्ट्रपति के प्रति कांग्रेस के सांसद की अभद्र टिप्पणी अत्यंत निंदनीय है। यह टिप्पणी भारत के संविधान, मातृशक्ति, जनजाती समाज और राष्ट्रपति के साथ देश का अपमान है। उन्होंने कहा कि मैं इस अभद्र टिप्पणी के लिए कांग्रेस सांसद और कांग्रेस की निंदा करता हूं। अपने इस निंदनीय कृत के लिए उन्हें देशवासियों से माफी मांगनी चाहिए।

गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने कहा कि ऐसी टिप्पणियां असंवैधानिक हैं और राष्ट्रपति की गरिमा को खराब करती हैं। ऐसी टिप्पणी के माध्यम से महिलाओं के साथ-साथ राष्ट्रपति का भी अपमान किया गया है। कांग्रेस को इसके लिए देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने कहा कि कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने अपमानजनक शब्द बोलकर देश की राष्ट्रपति का जिस तरह से अपमान किया है, वो बहुत ही निंदनीय है। द्रौपदी मुर्मू देश की पहली आदिवासी महिला हैं जो राष्ट्रपति चुनकर आई। मुझे लगता है कि कांग्रेस को यह बात हजम नहीं हुई है। कांग्रेस के नेता इस तरह के आपत्तिजनक शब्दों से उनका (राष्ट्रपति) अपमान कर रहे हैं, यह घोर निंदनीय है। अधीर रंजन चौधरी, कांग्रेस पार्टी और सोनिया गांधी को देश से माफी मांगनी चाहिए।

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि कांग्रेस नेता और सांसद अधीर रंजन चौधरी ने देश की राष्ट्रपति के लिए जो गलत शब्द का इस्तेमाल किया है, उसकी मैं निंदा करता हूं। इसके लिए उनको देश से माफी मांगनी चाहिए।

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि ऐसे विवादित बयान देकर खुद को खबरों में लाना अधीर रंजन चौधरी की आदत है। लेकिन देश की राष्ट्रपति के सम्मान में उनको खड़ा होना चाहिए... उन्होंने कहा कि भारत के इतिहास में पहली बार एक आदिवासी महिला देश की राष्ट्रपति बनी हैं और जिस प्रकार से उन्होंने टिप्ण्णी की है वो दुर्भाग्यपूर्ण है। उनको तुरंत माफी मांगनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: सोनिया और स्मृति के बीच हुई नोंकझोक के बाद सामने आया सुप्रिया सुले का बयान, बोलीं- हमें सदन की गरिमा को बनाए रखना चाहिए 

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू जी पर अधीर रंजन चौधरी की अभद्र टिप्पणी संविधान, आदिवासी समाज, जनजाति समाज, राष्ट्रपति और देश का अपमान है। यह कृत्य घोर निंदनीय है। इसके लिए कांग्रेस को देश से माफी मांगनी चाहिए। इससे पहले उन्होंने कहा था कि अधीर रंजन चौधरी का बयान कांग्रेस पार्टी की मानसिकता को दर्शाता है।

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने आदिवासी समुदाय से ताल्लुक रखने वाले राष्ट्रपति के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल किया। जिस तरह से उन्होंने राष्ट्रपति के प्रतिष्ठित पद को बदनाम किया, उसकी हर भारतीय को आलोचना करनी चाहिए। हर भारतीय को कांग्रेस, उसके नेताओं और सोनिया गांधी का बहिष्कार करना चाहिए।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़