शनिवार को होगा गणतंत्र दिवस फुल ड्रेस रिहर्सल, इन मार्गों को किया जाएगा बंद

शनिवार को होगा गणतंत्र दिवस फुल ड्रेस रिहर्सल, इन मार्गों को किया जाएगा बंद

22 जनवरी को शाम 6 बजे से विजय चौक पर पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। 23 जनवरी को फुल ड्रेस रिहर्सल समाप्त होने तक। राजपथ इंटरसेप्टर (क्रॉस) रफी मार्ग, जनपथ, मानसिंह रोड यातायात रात 11 बजे से पूरी तरह से बंद हो जाएगा।

गणतंत्र दिवस परेड के लिए फुल ड्रेस रिहर्सल 23 जनवरी को होगी। रिहर्सल सुबह 9.50 बजे शुरू होगी और परेड की शुरुआत विजय चौक से मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम तक होगी। इससे पहले परेड मार्ग 8.3 किमी लंबा था, जो विजय चौक से लाल किला तक फैला था। इस बार कोरोना महामारी को देखते हुए  विजय चौक से नेशनल स्टेडियम तक के 3.3 किलोमीटर मार्ग को छोटा कर दिया गया है। 26 जनवरी को परेड की झांकी लाल किले तक जाएगी, जिस कारण से, 26 जनवरी को कुछ अतिरिक्त मार्गों को बंद कर दिया जाएगा। खबरों के मुताबिक, 23 जनवरी को फुल ड्रेस रिहर्सल के मद्देनजर, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस 22 जनवरी को रात 11 बजे के बाद विजय चौक, रफी मार्ग, जनपथ आदि मार्गों को बंद कर देगी।

इसे भी पढ़ें: देश में भाजपा को छोड़कर सभी राजनीतिक दल परिवारवाद से ग्रस्‍त: जेपी नड्डा

इन मार्गों को किया जाएगा बंद

22 जनवरी को शाम 6 बजे से विजय चौक पर पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। 23 जनवरी को फुल ड्रेस रिहर्सल समाप्त होने तक। राजपथ इंटरसेप्टर (क्रॉस) रफी मार्ग, जनपथ, मानसिंह रोड यातायात रात 11 बजे से पूरी तरह से बंद हो जाएगा। 22 जनवरी को जब तक परेड खत्म नहीं होती तब तक इंडिया गेट सी-हेक्सागन 23 जनवरी को सुबह 9.15 बजे से परेड खत्म होने तक बंद रहेगा। दिल्ली यातायात ने लोगों को फुल ड्रेस रिहर्सल के दिन सुबह 9 बजे से 12.30 बजे तक राजपथ पर आने से बचने की सलाह दी है। 

 

इन मार्गों से जाएं

उत्तर से दक्षिण तक जाने के लिए, लोगों को रिंग रोड, आश्रम चौक, सेराईखेलोन, आईपी फ्लाईओवर, राजपथ और रिंग रोड से गुजरना चाहिए। मदरसा, लोधी रोड टी पॉइंट, अरबिंदो मार्ग, एम्स चौक, रिंग रोड, धौला कुआँ, वंदे मातरम मार्ग, शंकर रोड, शेख मुजीबुर रहमान रोड के लिए मंदिर मार्ग से यात्रा की जा सकती है। बता दें कि 23 जनवरी को केंद्रीय सचिवालय और उद्योग भवन मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास सुबह 5 बजे से दोपहर 12 बजे तक बंद रहेंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।