दिल्ली के स्कूलों को लेकर केजरीवाल सरकार पर बरसे संबित पात्रा, जानें क्या कहा

sambit patra
ANI
अंकित सिंह । Aug 04, 2022 7:40PM
संबित पात्रा ने यह भी कहा कि आज मैं इनका पर्दाफाश करने वाला हूं। संबित पात्रा ने कहा कि वह दिल्ली सरकार का ही एक ऐसा दस्तावेज दिखा रहे हैं जो कि उनके दावे का पर्दाफाश कर रहा है। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि यह दस्तावेज़ राज्य के शिक्षा विभाग का पत्र है, जो मनीष सिसोदिया का मंत्रालय है और दिल्ली सरकार के स्कूलों से संबंधित शिकायतों को संदर्भित करता है।

एक ओर जहां आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल लगातार गुजरात मॉडल पर सवाल उठा रहे हैं। वहीं भाजपा भी उन पर जबरदस्त तरीके से प्रहार कर रही है। हाल के दिनों में गुजरात के सरकारी स्कूलों को लेकर केजरीवाल और उनके नेताओं की ओर से कई दावे किए गए हैं। तो वहीं अब भाजपा की ओर से भी दिल्ली के स्कूलों की खामियों को लेकर एक बड़ा दावा किया गया है। आज भाजपा नेता संबित पात्रा ने दावा किया है कि दिल्ली के लगभग 15 स्कूलों के स्थिति ऐसी है जहां कभी भी स्कूल की इमारत गिर सकती है। अपने बयान में संबित पात्रा ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन लगातार यह दावा करते हैं कि उन्होंने दिल्ली की स्कूली शिक्षा प्रणाली और शिक्षा में क्रांति ला दी है।

इसे भी पढ़ें: संजय सिंह का ऐलान, उपराष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा का समर्थन करेगी AAP

लेकिन इसके बाद संबित पात्रा ने यह भी कहा कि आज मैं इनका पर्दाफाश करने वाला हूं। संबित पात्रा ने कहा कि वह दिल्ली सरकार का ही एक ऐसा दस्तावेज दिखा रहे हैं जो कि उनके दावे का पर्दाफाश कर रहा है। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि यह दस्तावेज़ राज्य के शिक्षा विभाग का पत्र है, जो मनीष सिसोदिया का मंत्रालय है और दिल्ली सरकार के स्कूलों से संबंधित शिकायतों को संदर्भित करता है। इसमें कहा गया है, काम पूरा नहीं होने, घटिया सामग्री के इस्तेमाल को लेकर स्कूलों से कई शिकायतें मिलीं है। उन्होंने कहा कि 15 से अधिक स्कूलों की एक बहुत बड़ी फेहरिस्त दी है कि इन स्कूलों में क्या क्या गड़बड़ है और किस प्रकार से ये गड़बड़ी अभिभावकों, स्कूल के बच्चों और वहां के स्टॉफ को प्रभावित कर रही है।

इसे भी पढ़ें: गुजरात चुनावों के लिए AAP ने जारी की उम्मीदवारों की पहली सूची, इन 10 लोगों को मिला मौका

इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई के नेता उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और जेल में बंद मंत्री सत्येंद्र जैन को बर्खास्त करने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर धरने पर बैठ गए थे। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने सिसोदिया और जैन को कैबिनेट से हटाने की मांग को लेकर केजरीवाल से मिलने के लिए प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया, जिसमें पार्टी नेता और विधायक शामिल थे। भाजपा नेताओं का आरोप है कि आबकारी नीति 2021-2022 में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है और वे आबकारी विभाग का ज़िम्मा संभालने वाले सिसोदिया को बर्खास्त करने की मांग कर रहे हैं।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़