पुणे के ग्रामीण इलाकों में फिर खुले स्कूल, 30 फीसदी छात्र रहे उपस्थित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 23, 2020   17:49
पुणे के ग्रामीण इलाकों में फिर खुले स्कूल, 30 फीसदी छात्र रहे उपस्थित

जिला परिषद शिक्षा अधिकारी गणपत मोरे ने कहा कि मैंने कुछ स्कूलों का दौरा किया और पता चला कि छात्रों की उपस्थिति 30 प्रतिशत के आसपास है।

पुणे। कोरोना वायरस के कारण मार्च में लॉकडाउन लागू होने के बाद बंद चल रहे पुणे के ग्रामीण इलाकों के स्कूल नौवीं से 12वीं तक की कक्षाओं के लिए सोमवार को फिर से खुले। अधिकारियों के मुताबिक विद्यार्थियों की उपस्थिति अभी 30 प्रतिशत है। पुणे और पिंपरी-चिंचवाड़ नगर निगम क्षेत्रों में शिक्षण संस्थान क्रमश: 13 दिसंबर और 30 नवंबर तक बंद रहेंगे। जिला परिषद शिक्षा अधिकारी गणपत मोरे ने कहा कि जिले के ग्रामीण इलाकों में 1,200 से अधिक स्कूल और कॉलेज हैं। 

इसे भी पढ़ें: पवार के साथ मिलकर सरकार बनाने संबंधी घटना को याद रखने की जरूरत नहीं है: फडणवीस 

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने कुछ स्कूलों का दौरा किया और पता चला कि छात्रों की उपस्थिति 30 प्रतिशत के आसपास है। मैंने उन माता-पिता से बात की जो महामारी की वजह से अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। ये सभी स्कूल कोविड-19 के नियमों का पालन कर रहे हैं। शिक्षकों और अन्य कर्मचारियों की जांच कराई जा रही है।’’ मोरे ने कहा कि शनिवार तक 4,700 से अधिक शिक्षकों की कोरोना वायरस की जांच की जा चुकी है और केवल 13 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। हालांकि उनमें भी संक्रमण के लक्षण नहीं हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।