जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों ने किया पुलवामा में आतंकियों के दो सहयोगियों को गिरफ्तार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 11, 2021   17:11
  • Like
जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों ने किया पुलवामा में आतंकियों के दो सहयोगियों को गिरफ्तार

सुरक्षा बलों ने सोमवार को आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की सहायता करने के आरोप में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले से दो लोगों को गिरप्तार किया। पुलिस ने यह जानकारी दी।

श्रीनगर। सुरक्षा बलों ने सोमवार को आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की सहायता करने के आरोप में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले से दो लोगों को गिरप्तार किया। पुलिस ने यह जानकारी दी। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, पुलिस ने सेना एवं सीआरपीएफ के साथ मिलकर अवंतीपुरा इलाके से जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों के दो सहयोगियों को गिरफ्तार किया है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस के कारण डिजिटल तरीके से होगा पेरिस फैशन वीक का आयोजन

ये लोग आतंकियों को आश्रय, समर्थन एवं साजो-सामान उपलब्ध कराने में संलिप्त थे। उन्होंने कहा कि गिरफ्तार किए गए लोग जिले के अवंतीपुरा और त्राल इलाके में हथियार एवं गोला-बारूद पहुंचाने के साथ ही जैश के आतंकियों को संवेदनशील सूचनाएं उपलब्ध कराते थे।

इसे भी पढ़ें: IND VS AUS: टीम इंडिया का प्रदर्शन देख खुश हुए सौरव गांगुली पुजारा, पंत की तारीफ की

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान शेजान गुलजार बेग और वसीम-उल-रहमान शेख के रूप में हुई है। अधिकारी ने बताया कि आरोपी विभिन्न सोशल मीडिया मंचों के जरिए पाकिस्तानी आतंकी कमांडरों के संपर्क में थे। उनके कब्जे से विस्फोटक सामग्री भी बरामद की गई है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, बोले- यह पूरी तरह सुरक्षित और सरल है

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 2, 2021   19:29
  • Like
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, बोले- यह पूरी तरह सुरक्षित और सरल है

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कम समय में टीका बनाने के लिए मैं भारत के वैज्ञानिकों और डॉक्टरों को सलाम करता हूं। मैं आर आर अस्पताल के डॉक्टरों और पैरामेडिक कर्मचारियों को भी धन्यवाद देता हूं।

नयी दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने यहां स्थित ‘आर्मी रिसर्च एंड रेफरल’ अस्पताल में मंगलवार को कोरोना वायरस टीके की पहली खुराक लगवाई। इससे एक दिन पहले ही टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत हुई थी। सिंह ने कहा कि टीका पूरी तरह सुरक्षित है। मंत्री ने ट्वीट किया, “आज आर आर अस्पताल में मुझे कोविड-19 के टीके की पहली खुराक दी गई। देश को कोविड मुक्त बनाने का भारत का संकल्प इस टीकाकरण अभियान से मजबूत हुआ है। टीका पूरी तरह सुरक्षित है और सरल है।” 

इसे भी पढ़ें: कोरोना की वैक्सीन लेने में न करें कोई जल्दबाजी! इन 8 बातों को ध्यान में रखें 

उन्होंने कहा कि कम समय में टीका बनाने के लिए मैं भारत के वैज्ञानिकों और डॉक्टरों को सलाम करता हूं। मैं आर आर अस्पताल के डॉक्टरों और पैरामेडिक कर्मचारियों को भी धन्यवाद देता हूं। मैं सभी पात्र लोगों से आग्रह करता हूं कि वे टीका लगवाएं और भारत को कोविड मुक्त करें।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


भाजपा गठबंधन का हिस्सा रही BPF ने चुनावों के मद्देनजर दिया यह बड़ा बयान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 2, 2021   19:24
  • Like
भाजपा गठबंधन का हिस्सा रही BPF ने चुनावों के मद्देनजर दिया यह बड़ा बयान

बीपीएफ प्रमुख हग्रामा मोहिलरी ने दावा किया कि राज्य के वरिष्ठ मंत्री और नेडा संयोजक हिमंत बिस्व सरमा ने उन्हें भाजपा नीत गठबंधन में शामिल होने के लिए गुमराह किया था।

तेजपुर। बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (बीपीएफ) के प्रमुख हग्रामा मोहिलरी ने मंगलवार को कहा कि पुराने मित्र’ कांग्रेस के नेतृत्व में महागठबंधन विधानसभा चुनावों में असम की भाजपा नीत सरकार का अंतिम संस्कार करेगा। बीपीएफ पहले राज्य की भाजपा नीत गठबंधन सरकार में हिस्सा थी। मोहिलरी ने दावा किया कि राज्य के वरिष्ठ मंत्री और नेडा संयोजक हिमंत बिस्व सरमा ने उन्हें भाजपा नीत गठबंधन में शामिल होने के लिए गुमराह किया था। 

इसे भी पढ़ें: असम की जनता को प्रियंका गांधी ने दी पांच गारंटी, कहा- कांग्रेस की सरकार बनाएं और लाभ उठाएं  

उन्होंने यहां एक रैली में कहा, ‘‘यह पक्का है कि कांग्रेस की अगुवाई वाला महागठबंधन राज्य में अगली सरकार बनाएगा और हम दो मई (मतगणना के दिन) को भाजपा का अंतिम संस्कार करेंगे। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा इस रैली में उपस्थित थीं। बीपीएफ नेता ने जोर दिया कि कांग्रेस ब्रह्मपुत्र नदी के उत्तरी तट की सभी 12 सीटें भाजपा से छीन लेगी। इन सीटों पर पहले चरण में चुनाव होने हैं। मोहिलरी ने कहा 2016 (विधानसभा चुनाव) से पहले, ये सीटें कांग्रेस के पास थीं और मैंने सुनिश्चित किया था कि इन निर्वाचन क्षेत्रों में भाजपा को जीत मिले। लेकिन इस बार, मैं भरोसा दिलाता हूं कि ये सभी सीटें कांग्रेस जीतेगी।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘बीपीएफ कांग्रेस की मित्र थी, लेकिन ‘नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक एलायंस’ (नेडा) के संयोजक ने हमें गुमराह किया। लेकिन अब, हम अपनी पुरानी सहयोगी के पास लौट आए हैं और कांग्रेस के नेतृत्व वाले महागठबंधन को राज्य में अगली सरकार बनाने से कोई नहीं रोक सकता।’’ 

इसे भी पढ़ें: माथे पर टोकरी रख प्रियंका ने तोड़ीं चाय की पत्तियां, बागान के मजदूरों से भी की मुलाकात 

उन्होंने हिमंत बिस्व सरमा पर चुटकी लेते हुए कहा कि वह पार्टियां बदलने के लिए मशहूर हैं और उन्हें भाजपा छोड़ देनी चाहिए क्योंकि वह निश्चित रूप से हारेगी।’’ मोहिलरी ने आरोप लगाया कि भाजपा एक तरफ भ्रष्टाचार समाप्त करने की बात करती है, दूसरी ओर, उसके सदस्य गायों की तस्करी, कोयला और सुपारी के अवैध कारोबार के लिए आपराधिक गिरोह (सिंडिकेट) में शामिल हैं।’’ उन्होंने दावा किया कि ये अवैध कारोबार भाजपा नेताओं के आशीर्वाद से पश्चिम बंगाल की सीमा पर श्रीरामपुर गेट से होते हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


किसान नेताओं पर बरसे जेपी नड्डा, बोले- ये कृषि सुधार किसान की तस्वीर व तकदीर बदलेंगे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 2, 2021   19:06
  • Like
किसान नेताओं पर बरसे जेपी नड्डा, बोले- ये कृषि सुधार किसान की तस्वीर व तकदीर बदलेंगे

भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि किसान नेताओं ने वर्षों तक किसानों पर राजनीति की लेकिन उनका भला नहीं किया। अगर किसान का भला किया है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया है।

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने नये कृषि कानूनों की ओर इशारा करते हुए मंगलवार को यहां कहा कि कृषि सुधार देश के किसानों की तस्वीर व तकदीर बदलने वाले हैं। इसके साथ ही नड्डा ने किसान नेताओं पर आरोप लगाया कि सालों साल तक उन्होंने किसानों के नाम पर राजनीति की है उनका भला नहीं किया। नड्डा यहां बिड़ला सभागार में भाजपा की राजस्थान प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसान नेताओं ने वर्षों तक किसानों पर राजनीति की लेकिन उनका भला नहीं किया। अगर किसान का भला किया है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया है। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा अध्यक्ष नड्डा जयपुर पहुंचे, राज्य कार्यसमिति की बैठक में शिरकत करेंगे 

उन्होंने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना आदि का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘ये सुधार किसान की तस्वीर व तकदीर बदल देंगे इस बात की गारंटी है। इसके बावजूद प्रधानमंत्री ने कहा हम आपके साथ बातचीत को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि यह वैकल्पिक हैं अगर अपनान चाहें तों अपनाएं।’’ भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘हमारे प्रधानमंत्री ने स्पष्ट कहा है कि हम बातचीत को तैयार हैं आप इसमें बताएं की क्या सुधार करने की जरूरत है हम करेंगे... किसान हमारे अन्न्दाता हैं उनको मुख्यधारा में शामिल करना हमारी जिम्मेदारी है लेकिन यह जो पार्टियां राजनीतिक दृष्टि से राजनीतिक रोटियां सेंकने का काम कर रही हैं और लोगों को गुमराह कर रही हैं, ऐसे में हमारी जिम्मेदारी है कि गांव-गांव घर-घर जाकर प्रत्येक किसान को बताएं कि सुधारों से उनका भला कैसे होगा।’’

उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि एपीएमसी को समाप्त करने की बात उनके चुनावी घोषणापत्र में थी। उन्होंने कहा, ‘‘पंजाब में ठेका खेती नहीं है क्या? कांट्रेक्ट खेती का कानून पंजाब की कांग्रेस सरकार लेकर नहीं आई थी? ... तुम करो तो सच हम करें तो झूठ।’’ नड्डा ने बेरोजगारी, दलित व महिलाओं पर अत्याचार व किसान कर्जमाफी को लेकर राज्य की अशोक गहलोत सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस वाले सत्ता पाने के लिए इतने फस्ट्रेशन में हैं कि कुछ भी वादा करेंगे और जो भी वादा करेंगे उसे कभी निभाएंगे नहीं। 

इसे भी पढ़ें: जेपी नड्डा ने मंदिर कॉरिडोर निर्माण कार्यों का लिया जायजा, बाद में बूथ अध्‍यक्षों की बैठक में हुए शामिल 

उन्होंने कहा, ‘‘मेरा आरोप है कि राज्य की मौजूदा गहलोत सरकार की प्राथमिकता सुशासन देना की नहीं बल्कि इसे कुशासित राज्य बनाने की है।’’ नड्डा ने अपने संबोधन की शुरुआत में कहा कि राजस्थान में कमल पहले भी खिला है और आगे भी खिलेगा। इससे पहले सुबह जयपुर पहुंचने पर पार्टी के राजस्थान प्रभारी अरुण सिंह, प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत व अर्जुनराम मेघवाल सहित अन्य वरिष्ठ नेताओं ने हवाई अड्डे पर उनका स्वागत किया। मंच पर राजस्थान प्रभारी अरुण सिंह, प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत व अर्जुनराम मेघवाल, राज्यसभा सदस्य ओम माथुर भी एक साथ दिखे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept