गृह मंत्री अमित शाह ने असम में मेडिकल कॉलेज और विधि कॉलेजों की रखी आधारशिला

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 26, 2020   18:52
गृह मंत्री अमित शाह ने असम में मेडिकल कॉलेज और विधि कॉलेजों की रखी आधारशिला

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बताया कि शाह ने दिफू, सिलचर, धुबरी, डिब्रूगढ़, उत्तरी लखीमपुर, जोरहाट, नलबाड़ी, रंगिया और राहा में स्थापित किए जाने वाले नौ विधि कॉलेजों की आधारशिला भी रखी।

गुवाहाटी। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को असम में एक मेडिकल कॉलेज और नौ विधि संस्थानों की शनिवार को आधारशिला रखी। इसके अलावा उन्होंने राज्य की अपनी यात्रा के दौरान दो अन्य परियोजनाओं की शुरूआत की। इन सभी चारों परियोजनाओं की शुरूआत यहां अमिंगांव में कुमार भास्कर बर्मन क्षेत्र से की गई। इस मौके पर असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल, केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री रामेश्वर तेली, राज्य के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत विश्व सरमा और अन्य लोग मौजूद थे। अधिकारियों ने बताया कि केन्द्रीय गृह मंत्री ने गुवाहाटी के दूसरे मेडिकल कॉलेज और अस्पताल की आधारशिला रखी जिसे 755 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से बनाया जायेगा। 

इसे भी पढ़ें: जब तक मोदी PM हैं, कोई कंपनी किसानों से जमीन नहीं छीन सकती: अमित शाह 

उन्होंने बताया कि शाह ने दिफू, सिलचर, धुबरी, डिब्रूगढ़, उत्तरी लखीमपुर, जोरहाट, नलबाड़ी, रंगिया और राहा में स्थापित किए जाने वाले नौ विधि कॉलेजों की आधारशिला भी रखी। शाह ने 15वीं शताब्दी के वैष्णव सुधारक-संत श्रीमंत शंकरदेवा की जन्मभूमि, नगांव जिले के बोरदुवा में बाताद्रव ‘थान’ के विकास और सौंदर्यीकरण परियोजना की शुरूआत की। इस काम पर अनुमानित लागत 188 करोड़ रुपये आयेगी। अधिकारियों ने बताया कि ‘थान या वैष्णव मठ को कला, संस्कृति, अनुसंधान और आध्यात्मिकता के केंद्र के रूप में विकसित किया जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: शुभेंदु अधिकारी ने भाजपा में शामिल होने के फैसले को बताया सही, बोले- जनता ने भी किया मंजूर 

उन्होंने बताया कि शाह ने विभिन्न धर्मों के पूजा स्थलों के संरक्षण के लिए ‘‘असोम दर्शन’’ योजना के तीसरे चरण की शुरूआत की। इस चरण में आठ हजार ‘नामघरों’ (वैष्णव प्रार्थना और सामुदायिक हॉल) जो 50 वर्ष से अधिक पुराने हैं, प्रत्येक को 2.5 लाख रुपये दिए जाएंगे। शाह शुक्रवार की रात यहां लोकप्रिय गोपीनाथ बारदोलोई अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पहुंचे थे। मुख्यमंत्री सोनोवाल, मंत्रिमंडल के उनके सहयोगियों, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष रणजीत कुमार दास और अन्य ने उनकी अगवानी की थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।