भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ियों का शिवराज सरकार करेगी सम्मान

भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ियों का शिवराज सरकार करेगी सम्मान

भोपाल के मिंटो हॉल में खिलाड़ियों के सम्मान समारोह का आयोजन किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने महिला हॉकी टीम की उपलब्धि पर हर खिलाड़ी को 31-31 लाख रुपये देने की घोषणा की थी।

भोपाल। टोक्यो ओलंपिक में बेहतरीन प्रदर्शन कर चौथे नंबर पर आने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम सोमवार को राजधानी भोपाल पहुंच रही है। 28 सितंबर को शिवराज सरकार महिला हॉकी टीम का सम्मान करेगी।

इसे भी पढ़ें:मध्यप्रदेश में नक्सलवाद पर नियंत्रण के लिए की जा रही सशस्त्र कार्रवाई एवं विकासात्मक कार्य : चौहान 

आपको बता दें कि भोपाल के मिंटो हॉल में खिलाड़ियों के सम्मान समारोह का आयोजन किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने महिला हॉकी टीम की उपलब्धि पर हर खिलाड़ी को 31-31 लाख रुपये देने की घोषणा की थी।

कप्तान रानी रामपाल, सविता पूनिया, गुरजीत कौर, मोनिका, दीप ग्रेस एक्का, निशा, सलीमा टेटे, उदिता, निक्की प्रधान, नेहा, लालरेम सियामी, पी. सुशीला चानू,  नवनीत कौर, नवजोत कौर, शर्मिला देवी, नमिता टोप्पो, वंदना कटारिया, ई. रजनी और रीना खोकर।

इसे भी पढ़ें:शाजापुर का शाहजहां: कोरोना से हुई पत्नी की मौत, याद में बनवाया मंदिर 

दरअसल खेल मंत्री सिंधिया ने कहा कि 2016 के रियो ओलिंपिक में ही मध्य प्रदेश राज्य महिला हॉकी अकादमी ग्वालियर में प्रशिक्षण प्राप्त 7 खिलाड़ियों ने भारतीय हॉकी टीम में अपनी छाप विश्व मंच पर छोड़ी थी। वहीं, 2020 के टोक्यो ओलिंपिक में भी मध्य प्रदेश राज्य महिला हॉकी अकादमी से प्रशिक्षित 5 खिलाड़ियों ने देश का प्रतिनिधित्व किया।

प्रदेश में हॉकी को पुनर्जीवित करने के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने वर्ष 2006 में ग्वालियर में राज्य महिला हॉकी अकादमी की स्थापना की थी। यहां देश के चुनिंदा खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दिया जाता है। विश्व स्तरीय सर्व-सुविधायुक्त इस आधुनिक अकादमी ने कई खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय मंच दिया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...