Shraddha Murder Case: आफताब को न्यायिक हिरासत में भेजा गया, 28 को हो सकता है नार्को टेस्ट

Aftab
ANI
अंकित सिंह । Nov 26, 2022 4:14PM
मामले की सुनवाई के बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। खबर यह भी है कि जल्द ही आफताब को दिल्ली के तिहाड़ जेल भी भेजा जा सकता है। आपको बता दें कि आफताब पर अपनी गर्लफ्रेंड श्रद्धा का हत्या का आरोप है। उसने कोर्ट में बकायदा इसे स्वीकार भी किया है।

श्रद्धा मर्डर केस को लेकर दिल्ली पुलिस लगातार जांच कर रही है। आज अपनी गर्लफ्रेंड श्रद्धा के हत्यारे आफताब की कोर्ट में पेशी हुई। इसके बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। अब तक वह पुलिस हिरासत में था। शनिवार को आफताब की पुलिस रिमांड खत्म हो रही थी। फिलहाल आफताब को कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही पेश किया गया। आफताब अंबेडकर अस्पताल में है। मामले की सुनवाई के बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। खबर यह भी है कि जल्द ही आफताब को दिल्ली के तिहाड़ जेल भी भेजा जा सकता है। आपको बता दें कि आफताब पर अपनी गर्लफ्रेंड श्रद्धा का हत्या का आरोप है। उसने कोर्ट में बकायदा इसे स्वीकार भी किया है। 

इसे भी पढ़ें: Uniform civil code से लेकर श्रद्धा मर्डर केस तक, जानें अमित शाह ने तमाम सवालों का क्या दिया जवाब

आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट किया गया है। खबर यह भी है कि 28 तारीख को दिल्ली पुलिस उसका नार्को टेस्ट भी कराएगी। दिल्ली पुलिस इस मामले को लेकर सबूत तेजी से जुटाने की कोशिश कर रही है ताकि कानूनी कार्यवाही को तेज किया जा सके। दिल्ली पुलिस का दावा यह भी है कि आरोपी पूछताछ के दौरान सहयोग नहीं कर रहा है। श्रद्धा मर्डर केस में लगातार अलग-अलग खुलासे हो रहे हैं। 18 मई 2022 को उसमें श्रद्धा की गला दबाकर हत्या कर दी थी। कथित तौर पर आफताब में उसके शव को 35 टुकड़ों में काटकर अलग-अलग इलाकों में फेंक दिया था। पुलिस को अभी तक पीड़िता की खोपड़ी और शरीर के बाकी हिस्सों के साथ-साथ शरीर के टुकड़े करने के लिए इस्तेमाल किए गए हथियार का पता नहीं चल पाया है। 

इसे भी पढ़ें: देश को 'लव जिहाद' के खिलाफ सख्त कानून की जरूरत, गुजरात की जनसभा में असम के CM ने श्रद्धा मर्डर केस का जिक्र करते हुए कही ये बात

पुलिस के अनुसार, शव को काटने के लिए इस्तेमाल की गई आरी अभी तक बरामद नहीं हो सकी है। इस घटना ने उस समय राजनीतिक मोड़ ले लिया जब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आश्वासन दिया कि कम से कम समय में आरोपी के लिए “कड़ी सजा” सुनिश्चित की जाएगी। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने आरोप लगाया है कि मुस्लिम प्रेमी द्वारा वालकर की हत्या की घटना का सांप्रदायिक दुष्प्रचार के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।

अन्य न्यूज़