हरि नगर के विधायक जगदीप सिंह ने वापस लिया इस्तीफा, AAP में ही बने रहेंगे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 25, 2020   09:34
हरि नगर के विधायक जगदीप सिंह ने वापस लिया इस्तीफा, AAP में ही बने रहेंगे

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए टिकट काटे जाने से नाराज होकर आम आदमी पार्टी छोड़ने के कुछ ही दिनों बाद, हरि नगर के निवर्तमान विधायक जगदीप सिंह ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सलाह पर अपना इस्तीफा वापस ले लिया है।

नयी दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए टिकट काटे जाने से नाराज होकर आम आदमी पार्टी छोड़ने के कुछ ही दिनों बाद, हरि नगर के निवर्तमान विधायक जगदीप सिंह ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सलाह पर अपना इस्तीफा वापस ले लिया है। सिंह दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और राजकुमारी ढिल्लों के साथ शुक्रवार को एक जनसभा में शामिल हुए। हाल ही में कांग्रेस छोड़कर आने वाली राजकुमारी ढिल्लों को पार्टी ने इस विधानसभा क्षेत्र से मैदान में उतारा है।

इसे भी पढ़ें: EC ने भाजपा कैंडिडेट कपिल मिश्रा के खिलाफ दर्ज कराई FIR, जानें पूरा मामला

उन्होंने फोन पर बताया, ‘‘मैंने सोचा कि पार्टी के साथ रहना बेहतर है। आप नेतृत्व और मुख्यमंत्री ने मुझे पार्टी के साथ रहने की सलाह दी। इसलिए, मैंने सोचा कि हमने पिछले कुछ वर्षों में अच्छा काम किया है इसलिए मुझे पार्टी से जुड़े रहना चाहिए।’’ गौरतलब है कि सिंह ने टिकट काटे जाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए पिछले हफ्ते आप छोड़ दी थी। सूत्रों ने बताया कि सिंह शिरोमणि अकाली दल के संपर्क में थे और उसमें शामिल होने की योजना बना रहे थे, लेकिन शिअद ने संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी पर अपने रुख को लेकर चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया। फिर उन्होंने एक निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में नामांकन दाखिल किया था लेकिन उन्होंने इसे बाद में वापस ले लिया।

इसे भी देखें: सोशल मीडिया पर ट्रोल किये जाने को लेकर बग्गा ने दिया ये जवाब





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।