सपा और बसपा ने सिर्फ जातिवाद और तुष्टीकरण को ही आगे बढ़ाया : शाह

Amit Shah
शाह ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर अक्सर सवाल उठाने वाले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर हमला करते हुए कहा अखिलेश बाबू आप कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हो। आप को चुल्लू भर पानी में डूब मरना चाहिए। आपको कानून व्यवस्था पर बोलने का कोई अधिकार नहीं है।

मथुरा (उत्तर प्रदेश)|  केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा के अभियान को आगे बढ़ाते हुए बृहस्पतिवार को सपा और बसपा पर प्रदेश में अपने-अपने शासनकाल के दौरान जातिवाद और परिवारवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया।

मथुरा में बांके बिहारी मंदिर में दर्शन करके घर-घर चुनाव प्रचार करने के बाद शाह ने प्रभावी मतदाताओं को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश की मौजूदा कानून व्यवस्था पर सवाल उठा रहे सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर अपने मुख्यमंत्रित्व काल में गुंडाराज चलाने का आरोप भी लगाया। पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ प्रचार कर रहे अमित शाह ने गोवर्धन मार्ग के नजदीक सतुआ गांव में पर्चे बांटे।

इस दौरान महिलाओं और बच्चियों ने मथुरा की तंग गलियों में स्थित अपने घरों की छत से उन पर पुष्प वर्षा की। इस दौरान शाह एक महिला की गोद में बैठे एक बच्चे को माला पहनाते भी नजर आए।

केंद्रीय गृह मंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि सपा और बसपा की पिछली सरकारों ने कुछ विशेष जातियों के लिए ही काम किया। उनमें से कोई भी प्रदेश के सर्वांगीण विकास का नक्शा नहीं खींच सकीं। यह काम केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने ही किया। उन्होंने कहा भाजपा किसी जाति विशेष की नहीं बल्कि पूरे समाज की पार्टी है। वर्ष 2017 में जनता ने उन सभी दलों को नकार दिया जो जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण की राजनीति करते थे। क्या वोट बैंक के तुष्टीकरण के लिए बाकी पूरे समाज की अनदेखी की जा सकती है?

शाह ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर अक्सर सवाल उठाने वाले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर हमला करते हुए कहा अखिलेश बाबू आप कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हो। आप को चुल्लू भर पानी में डूब मरना चाहिए। आपको कानून व्यवस्था पर बोलने का कोई अधिकार नहीं है।

आंकड़ों से पता चलता है कि भाजपा के शासनकाल में प्रदेश की कानून व्यवस्था बेहतर हुई है। उन्होंने यह भी कहा कि अगर प्रदेश की बागडोर एक बार फिर अखिलेश के हाथ में गई तो राज्य में फिर से गुंडाराज व्याप्त हो जाएगा। शाह ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि पिछले सात वर्षों के दौरान केंद्र की मोदी सरकार और राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार के पांच साल के शासनकाल में भ्रष्टाचार नहीं हुआ।

यहां तक कि राहुल बाबा भी भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा सकते। उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर कन्नौज और कानपुर में इत्र के कारोबारियों के यहां पड़े छापों की आड़ में तंज करते हुए कहा अखिलेश बाबू आप के समर्थकों के घर से नोटों से भरे बोरे निकल रहे हैं लेकिन भाजपा पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं है।

शाह ने कहा कि भाजपा का उद्देश्य मथुरा को दिव्यता, भव्यता देना और इसे आधुनिक तीर्थ स्थल बनाना है। देश में पिछले पांच वर्षों के दौरान इस दिशा में बहुत काम हुआ है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़