राज्य सरकार द्वारा नशे को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जा रहे ---मनोहर लाल

राज्य सरकार द्वारा नशे को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जा रहे ---मनोहर लाल

उन्होंने कहा किग्राम स्तर पर समितियां बनाकर नशे के खिलाफ अभियान शुरू करेंगे।केवल नशे से रोकना ही इन समितियों का लक्ष्य नहीं बल्कि लोगों की काउंसलिंग और रिहेबेलीशन भी करेंगे। इन 10 सदस्यीय टीमों का गठन मार्च के अंत तक किया जाएगा। इसमें 5 स्थानीय प्रतिनिधि और 5 अधिकारी शामिल होंगे।

चंडीगढ़  मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने कहा कि वर्तमान समय में नशा समाज के लिए गंभीर चिंता का विषय बन गया है और राज्य सरकार द्वारा नशे को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जा रहे हैं।प्रदेश में हरियाणा स्टेट नारकोटिक्स ब्यूरो बनाकर नशे के खिलाफ अभियान छेड़ाहै।  हरियाणा राज्य नारकोटिक्स नियंत्रण ब्यूरो द्वारा एक विस्तृत स्टेट एक्शन प्लान बनाया गया है।आसपास के राज्यों के साथ मिलकर भी अंतर्राज्यीय ड्रग सचिवालय बनाकर भी काम कियाहै।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब तक 2746 अभियोग दर्ज कर 3975 आरोपियों को गिरफ्तार किया  इस दौरान 29.13 किलो हेरोइन, 157.25 किलो चरस, 11368 किलो गांजा, 356.19 किलो अफीम, 8550 किलो चूरापोस्त, 1364121 नशीली गोलियां, सिरप जब्त कियाहै।समाज के हर आयु वर्ग के नागरिकों को नशा मुक्त हरियाणा के यज्ञ में सम्मिलित करने के लिए ग्राम, वार्ड, कलस्टर, सब-डिवीजन, जिला व राज्य मिशन टीमों का गठन किया है। शिक्षण संस्थानों को भी इस बुराई से बचाने के लिए एक विशेष कार्यक्रम प्रारम्भ किया जा रहा है।

 

इसे भी पढ़ें: हरियाणा में 1.80 लाख रुपए से कम आय वाले परिवारों को भी मिलेगा आयुष्मान भारत योजना का लाभ

 

उन्होंने कहा किग्राम स्तर पर समितियां बनाकर नशे के खिलाफ अभियान शुरू करेंगे।केवल नशे से रोकना ही इन समितियों का लक्ष्य नहीं बल्कि लोगों की काउंसलिंग और रिहेबेलीशन भी करेंगे। इन 10 सदस्यीय टीमों का गठन मार्च के अंत तक किया जाएगा। इसमें 5 स्थानीय प्रतिनिधि और 5 अधिकारी शामिल होंगे। पूरे राज्य में नशीले पदार्थों के खिलाफ व्यापक अभियान चलाया जाएगा और इस समस्या की जड़ तक पहुंचने के लिए फॉरवर्ड, बैकवर्ड लिंकेज मैकेनिज्म स्थापित किया गया है।गृहमंत्री अनिल विज ने कहा किहमने हरियाणा में नशे के विरुद्ध युद्ध छेड़ा है। मधुबन में राज्य नारकोटिक्स ब्यूरो का हेड ऑफिस बनाया है

 

इसे भी पढ़ें: यूक्रेन से भारतीय नागरिकों को देश वापस लाने के लिए हर संभव प्रयास करेगी हरियाणा सरकार

 

9050891508 टोल फ्री नंबर जारी किया गया है। हम रजिस्टर किए गए हर केस की जड़ तक जाएंगे पुलिस को निर्देश दिए हैं  लगातार रेड हो रही हैं जिसकी साप्ताहिक रिपोर्ट हर सुपरिटेंडेट मेरे तक भेजता है अब तक 18937 रेड में 4879 केस रजिस्टर कर 5379 लोगों को पकड़ा है। नशे का काम करने वाले लोगों की संपत्ति भी अटैच की हमने केस रजिस्टर करने के लिए भी जवाबदेही तय की है। इसके लिए बाकायदा पोर्टल बनाकर उसका ट्रायल कर चुके  जिसमें हरियाणा में रजिस्टर हर केस की सब डिटेल होगी।

 

इसे भी पढ़ें: सीएम विंडो व ट्विटर हैंडल - विवादों के समाधान का सरल व आसान तरीका

 

युक्रेन संकट पर  मुख्यमंत्री ने कहा किमामले को लेकर विदेश मंत्रालय के निरंतर संपर्क में युक्रेन में 2000 के करीब लोग हरियाणा के फंसे हैं हालांकि विदेश मंत्रालय ने एक कंट्रोल रूम बनाया हरियाणा के लिए हमने भी कंट्रोल रूम बनाया है 9212314595 व्हाट्सएप नंबर भी हमने जारी किया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।