भाजपा ने ममता की पार्टी को बताया तालिबानी मानसिकता कांग्रेस, कहा- नरेंद्र चक्रवर्ती की भाषा टीएमसी का मूल विचार है

भाजपा ने ममता की पार्टी को बताया तालिबानी मानसिकता कांग्रेस, कहा- नरेंद्र चक्रवर्ती की भाषा टीएमसी का मूल विचार है
प्रतिरूप फोटो

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने टीएमसी विधायक के वायरल हो रहे वीडियो का हवाला देते हुए कहा कि वीडियो में सुनाई दे रही भाषा टीएमसी का मूल विचार है। उन्होंने कहा कि टीवी चैनल एक वीडियो चला रहे हैं, जिसमें एक टीएमसी विधायक अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुई बदले की राजनीति की बात कर रहे हैं।

कोलकाता। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को एक बार फिर से पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि अभी कुछ दिन पहले बीरभूम में 8 लोगों की दर्दनाक मृत्यु हुई, तब भाजपा ने देश के सामने सच्चाई को रखा था। तब भी हमने कहा था कि बंगाल में लोकतंत्र की हत्या हो रही है। 

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल के घटनाक्रम पर भाजपा ने कहा- मूक दर्शक नहीं रह सकता केंद्र 

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) विधायक के वायरल हो रहे वीडियो का हवाला देते हुए कहा कि वीडियो में सुनाई दे रही भाषा टीएमसी का मूल विचार है। उन्होंने कहा कि आज टीवी चैनल एक वीडियो चला रहे हैं, जिसमें एक टीएमसी विधायक नरेंद्र चक्रवर्ती अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुई बदले की राजनीति की बात कर रहे हैं। उनकी जो भाषा है, वो टीएमसी का मूल विचार है।

इसी बीच संबित पात्रा ने कहा कि यह अतिश्योक्ति नहीं होगी, अगर टीएमसी को तालिबानी मानसिकता कांग्रेस कहेंगे। उन्होंने कहा कि 3 दिन पहले ममता बनर्जी बीरभूम जाकर भाजपा को घेरने की कोशिश कर रही थी।

उन्होंने कहा कि कलकत्ता हाईकोर्ट ने बीरभूम के पूरे मामले को सीबीआई को सौंपा है। क्योंकि न्यायपालिका को भी लगता है कि न्याय बंगाल में हो नहीं रहा है। बंगाल आज बम और बारूद के ढेर पर बैठा है और उसे सुलघाने का काम टीएमसी के कार्यकर्ता कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह कोई पहली बार नहीं है 2014 और उससे पहले भी अनेकों बार देखने को मिला था। 

इसे भी पढ़ें: बंगाल विधानसभा में हाथापाई, शुभेंदु अधिकारी समेत भाजपा के 5 विधायक सस्पेंड, टीएमसी विधायक अस्पताल में हुए भर्ती 

इससे पहले भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने टीएमसी विधायक द्वारा पार्टी समर्थकों को धमकाए जाने का कथित वीडियो साझा किया। इस वीडियो के माध्यम से अमित मालवीय ने चुनाव आयोग से संज्ञान लेने का अनुरोध किया है। इसके साथ ही ममता बनर्जी पर भी निशाना साधा था।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...