अपने सगे भाई-भाभी सहित दो बच्चों को जलाया जिंदा , खुद फांसी पर झूला

अपने सगे भाई-भाभी सहित दो बच्चों को जलाया जिंदा , खुद फांसी पर झूला

मृतकों में 35 वर्षीय भाई ओंकार विश्वकर्मा, भाभी कस्तूरिया विश्वकर्मा तथा 17 बर्षीय भतीजी की मौके में मृत्यु हो गई। जबकि 05 साल का भतीजे को गंभीर हालत में अनूपपुर जिला अस्पताल भेजा गया जहाँ से उसे शहडोल रेफर कर दिया गया है। बच्चे की हालत नाजुक बनी हुई है।

अनूपपुर। मध्य प्रदेश में अनूपपुर जिले के थाना जैतहरी अंतर्गत ग्राम धनगवां में युवक ने पारिवारिक विवाद के चलते गुरूवार रात करीब  1 बजेे के बाद अपने सगे भाई-भाभी और दो बच्चों को पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया और उसके बाद खुद भी फांसी के फंदे पर झूलकर खुदकुशी कर ली। 

इसे भी पढ़ें: इंदौर में दर्दनाक सड़क हादसे में ऑटो चालक की मौत, तेज रफ्तार कार ने मारी टक्कर

पुलिस ने घटना के विषय में बताया गया कि आरोपी मृतक दीपक विश्वकर्मा का अपने भाई से विवाद था। वह आए दिन इस झगड़े से वह मानसिक रूप से काफी परेशान रहता था।वही बुधवार-गुरूवार की बीती रात जब भाई- भाभी, भतीजी और भतीजा सब सो रहे थे उसी दौरान उसने सब को आग के हवाले कर दिया। मृतकों में 35 वर्षीय भाई ओंकार विश्वकर्मा, भाभी कस्तूरिया विश्वकर्मा तथा 17 बर्षीय भतीजी की मौके में मृत्यु हो गई। जबकि 05 साल का भतीजे को गंभीर हालत में अनूपपुर जिला अस्पताल भेजा गया जहाँ से उसे शहडोल रेफर कर दिया गया है। बच्चे की हालत नाजुक बनी हुई है।  





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।