इंदौर में दर्दनाक सड़क हादसे में ऑटो चालक की मौत, तेज रफ्तार कार ने मारी टक्कर

इंदौर में दर्दनाक सड़क हादसे में ऑटो चालक की मौत, तेज रफ्तार कार ने मारी टक्कर

हादसे की सूचना मिलते ही राकेश के परिजन भी एमवाय अस्पताल पहुंच गए। राकेश के काका के बेटे सुनील ने बताया कि राकेश के तीन बच्चे हैं। गत 1 नवंबर को ही बेटा एक साल का हुआ है। माता-पिता भी राकेश के साथ ही रहते थे। वह घर में कमाने वाले इकलौता था।

इंदौर।  शहर के मध्य एमजी रोड पर नावेल्टी मार्केट चौराहा के समीप गुरुवार की सुबह  दर्दनाक हादसा हो गया। सड़क किनारे रिक्शा साफ कर रहे चालक को पीछे से आकर एक कार ने टक्कर मार दी। इसके बाद चालक के ऊपर खंबा भी आ गिरा, जिससे उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। घटना सुबह करीब 7 बजे एमजी रोड थाना क्षेत्र के जेल रोड चौराहा पर हुई। राकेश पिता राजकुमार चितले (40) निवासी द्वारकापुरी सड़क किनारे सवारी का इंतजार करते हुए अपनी रिक्शा एमपी 09 आर 6451 साफ कर रहा था।  तभी पीछे से आ रही पोलो कार एमपी 09 सीजे 5270 ने रिक्शा को जोरदार टक्कर मार दी।

 

इसे भी पढ़ें: इंदौर में अवैध निर्माणों पर चला जिला प्रशासन का बुलडोजर, तीन गुंडों के मकान जमींदोज

रिक्शा को टक्कर मारने के बाद घबराहट में कार चालक ने अपनी कार खंबे में घुसा दी, जिससे खंबा भी उखड़कर सड़क पर पड़े रिक्शा चालक पर आ गिरा। रिक्शा चालक राकेश टक्कर के बाद खंबे के समीप ही गिरा था और खंबा भी उसी पर आ गिरा।  जिसके बाद राकेश ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने कार को जब्त कर लिया।  फिलहाल कार चालक फरार है। नंबर के आधार पर पुलिस जांच कर रही है। आरटीओ के अनुसार यह कार आनंद जायसवाल निवासी खजराना के नाम से रजिस्टर्ड बताई जा रही है। पहले रिक्शा चालक को केवल टक्कर लगी थी, लेकिन खंभा उसके ऊपर गिरने से उसे सिर में गहरी चोट लग गई। 

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के रतलाम में बाप-बेटी और माँ के शव मिले, हत्या की आशंका

हादसे की सूचना मिलते ही राकेश के परिजन भी एमवाय अस्पताल पहुंच गए। राकेश के काका के बेटे सुनील ने बताया कि राकेश के तीन बच्चे हैं। गत 1 नवंबर को ही बेटा एक साल का हुआ है। माता-पिता भी राकेश के साथ ही रहते थे। वह घर में कमाने वाले इकलौता था। वह रोज सुबह करीब पांच बजे एमजी रोड के जेलरोड चौराहे पर बने स्टैंड पर आ जाता था। आज सुबह भी वह समय पर पहुंच गया और अपनी आटो रिक्शा साफ कर रहा था, तभी हादसा हो गया। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...