Breaking: पटियाला में शिवसेना के खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च के दौरान हिंसक झड़प, लहराई गई तलवारें, पत्थरबाजी और फायरिंग

Breaking: पटियाला में शिवसेना के खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च के दौरान हिंसक झड़प, लहराई गई तलवारें, पत्थरबाजी और फायरिंग
Creative Common

पुलिसबल की भारी तैनाती इलाके में की गई है। पटियाला के काली माता मंदिर के इलाके की ये घटना बताई जा रही है। बता दें कि पटियाला में शिवसेना ने बाल ठाकरे के खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च के विरोध में ख्याली सिख युवकों ने भी मार्च निकाला था।

पंजाब के पटियाला में दो गुटों के बीच हिंसक झड़प हो गई है। बताया जा रहा है कि शिवसेना और खालिस्तानी समर्थकों के बीच हिंसक झड़प हुई है। दोनों गुट आपस में भिड़ गए और इस दौरान पत्थरबाजी की गई। इलाके में जबरदस्त तनाव बताया जा रहा है। तनाव बढ़ता देख सुरक्षाबलों को वहां भेजा गया है। पुलिसबल की भारी तैनाती इलाके में की गई है। पटियाला के काली माता मंदिर के इलाके की ये घटना बताई जा रही है। बता दें कि पटियाला में शिवसेना ने बाल ठाकरे के खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च के विरोध में ख्याली सिख युवकों ने भी मार्च निकाला था। जिसमें शिव सैनिकों को बंदर सेना का नाम देते हुए मुर्दाबाद के नारे लगाए गए। 

इसे भी पढ़ें: पंजाब में जारी बिजली कटौती पर ऊर्जा मंत्री ने कहा- मांग में 40 प्रतिशत की बढ़ोतरी

गौरतलब है कि सिख फॉर जस्टिस के कन्वीनर गुरपतवंत पन्नू ने 29 अप्रैल को खालिस्तान का स्थापना दिवस मनाने की घोषणा की थी। जिसके जवाब में पटियाला में शिवसेना बालठाकरे के पंजाब कार्यकारी प्रधान हरिश सिंगला की देखरेख में आर्य समाज चौक से खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च शुरु हो किया। जानकारी के अनुसार खालिस्तान समर्थकों ने तलवार से एसएचओ पर हमला किया। पुलिस की तरफ से स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए करीब 15 राउंड हवाई फायर किए जा चुके हैं। पुलिस की ओर से फायरिंग अभी भी जारी है। काली माता मंदिर के बाहर भारी संख्या में खालिस्ताना समर्थक इकट्ठे हो गए हैं। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...