दलित को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद पर देखना चाहता हूं : हरीश रावत

Harish Rawat
प्रतिरूप फोटो
पंजाब कांग्रेस के एआईसीसी प्रभारी रावत ने कहा, “मैं भगवान और मां गंगा से प्रार्थना करता हूं कि मुझे मेरे जीते जी एक दलित के बेटे को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के तौर पर देखने का अवसर मिले। हम इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए काम करेंगे।'

देहरादून, 20 सितंबर उत्तराखंड में कांग्रेस के प्रचार अभियान प्रभारी हरीश रावत ने सोमवार को कहा कि वह एक दलित को राज्य के मुख्यमंत्री के पद पर देखना चाहते हैं और उनकी पार्टी इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए काम करेगी।

पार्टी की परिवर्तन यात्रा के दौरान हरिद्वार जिले के लकसर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए रावत ने कहा कि कांग्रेस ने पंजाब में एक दलित को मुख्यमंत्री बनाकर इतिहास रचा है। रावत ने कहा, “आजीवन गाय के गोबर से कंडे बनाने वाली महिला के बेटे को मुख्यमंत्री बनाकर कांग्रेस ने ना केवल पंजाब में बल्कि पूरे उत्तर भारत में इतिहास रचा है।”

इसे भी पढ़ें: अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले केंद्र बिंदु में आई जातिवाद की राजनीति

पंजाब कांग्रेस के एआईसीसी प्रभारी रावत ने कहा, “जब पंजाब के नए मुख्यमंत्री एक संवाददाता सम्मेलन में अपने गरीब परिवार के बारे में बता रहे थे तो हम सबकी आंखों में आंसू आ गए।”

उन्होंने दलित के बेटे को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाने के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी को धन्यवाद दिया और कहा कि इतिहास में ऐसे मौके बेहद कम देखने को मिले हैं जब ऐसी नजीर पेश की गई।

रावत ने कहा, “मैं भगवान और मां गंगा से प्रार्थना करता हूं कि मुझे मेरे जीते जी एक दलित के बेटे को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के तौर पर देखने का अवसर मिले। हम इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए काम करेंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़