बागपत से सपा-बसपा पर बरसे योगी आदित्यनाथ, पूछा- क्या हमारी सरकार में कोई दंगा हुआ

Yogi Adityanath
प्रतिरूप फोटो
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब प्रदेश में कभी कोई सरकारी भर्ती निकलती थी तो सैफई खानदान पैसे लेकर भर्ती कराता था। तब प्रदेश का नौजवान भर्ती नहीं हो पाता था। आज बिना भेदभाव और बिना पैसों के नौकरी मिल रही है।

बागपत। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को बागपत के छपरौली में 'प्रभावी मतदाता संवाद' कार्यक्रम को संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सपा सरकार में मुजफ्फरनगर में और अयोध्या में रामभक्तों पर गोलियां चली थीं कितने बेगुनाह मारे गए थे। आज भी उनकी टोपी खून से रंगी हुई है। उन्होंने कहा कि बेटियों की सुरक्षा के लिए खतरा था, वो स्कूल नहीं जा सकती थी, और ये कहा जाता था कि लड़कों से गलती हो जाती है। 

इसे भी पढ़ें: UP Election 2022: मुस्लिम वोटरों को लुभाने के लिए मायावती ने किया बड़ा खेल, सपा का बिगड़ न जाए समीकरण 

उन्होंने कहा कि जब प्रदेश में कभी कोई सरकारी भर्ती निकलती थी तो सैफई खानदान पैसे लेकर भर्ती कराता था। तब प्रदेश का नौजवान भर्ती नहीं हो पाता था। आज बिना भेदभाव और बिना पैसों के नौकरी मिल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले कावड़ यात्रा निकलती थी तो उस पर हमला होता था लेकिन मैं कावड़ यात्रा में हेलिकॉप्टर भेजता हूं और वो पुष्प वर्षा करता है। पिछले 5 सालों में क्या कोई दंगा हुआ ? दिल्ली में जब दंगा हुआ तो यहां पर किसी में दंगा करने की हिम्मत नहीं हुई। क्योंकि उन्हें पता था कि दंगा किया तो सबकुछ बिक जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: Amit Shah in muzaffarnagar | मुजफ्फरनगर में अमित शाह ने किया दंगों का जिक्र, कहा- यूपी में अब कानून का राज 

उन्होंने कहा कि अब उत्तर प्रदेश प्रगति करेगा। मुख्यमंत्री ने सपा पर हमला बोलते हुए कहा कि उनकी सरकार में तो बिजली ही नहीं आती थी और कहते हैं कि बिजली फ्री दे देंगे। उन्होंने कहा कि जब मौका मिला था तब क्या किया था उन्होंने ? चर्चा तो तीनों सरकारों को करनी चाहिए कि कांग्रेस, सपा और बसपा ने क्या किया ? मुख्यमंत्री ने कहा कि तीनों के कार्यकालों को जोड़ लो और उससे ज्यादा अगर भाजपा ने कार्य नहीं किया हो तो मैं वोट मांगने नहीं आऊंगा। उन्होंने कहा कि पहले मुख्यमंत्री बनते थे, मंत्री बनते थे तो अपने लिए आवास बनाते थे लेकिन हमने प्रदेश के गरीबों को मकान बनाया। 45 लाख गरीबों को मकान बना है।

यहां सुने पूरा संबोधन:-  

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़